कोरोना की दूसरी लहर! इस देश में मई तक राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा, कई देशों में कड़ा प्रतिबंध.....



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। भारत में भले ही हाल फिलहाल कोरोना के केसों में कमी देखी जा रही है, लेकिन कई देश ऐसे है। जहां कोरोना की दूसरी लहर शुरू हो गई है। स्पेन के प्रधानमंत्री पेद्रो सांचेज ने कोरोना की नई लहर को देखते हुए रात के वक्त कर्फ्यू लगा दिया है, इसके साथ ही साथ मई तक के लिए राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा कर दी गई।  

स्पेन के प्रधानमंत्री पेद्रो सांचेज ने कहा कि रात 11 बजे से अगली सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा यानी लोगों के घर से बाहर निकलने पर रोक रहेगी। ये प्रतिबंध रविवार से लागू हो गए हैं। कहा कि आपातकाल के तहत स्थानीय प्रशासन विभिन्न क्षेत्रों में आने-जाने पर भी प्रतिबंध लगा सकते हैं। 

हालांकि दूसरे यूरोपीय क्षेत्रों की तरह ही स्पेन भी संक्रमण की दूसरी लहर की चपेट में आ गया है। इटली में भी रविवार से नए प्रतिबंधों की घोषणा हुई। फ्रांस में रविवार को 24 घंटे में वहाँ संक्रमण के कुल 52,010 मामले सामने आए। 

स्पेन में ताजा प्रतिबंध कैनरी द्वीप को छोड़कर सभी क्षेत्रों पर लागू होंगे। महामारी की शुरुआत से अबतक स्पेन में संक्रमण के मामले 10 लाख से पार हो गए हैं और करीब 35 हजार लोगों की मौत हुई है। 

वहीं दूसरी तरफ श्रीलंका के मुख्य मछली बाजार को बंद कर दिया गया और कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया। इसके बाद रविवार को सरकार ने 16 पैसेंजर ट्रेन भी बंद करने का ऐलान कर दिया है। सरकार ने कोलंबो के कुछ हिस्सों में और राजधानी के बाहर के कुछ इलाकों में कर्फ्यू लगाया है। 

उधर इटली सोमवार से सिनेमा, स्विमिंग पूल, थिएटर और जिम बंद करने जा रहा है. बार, रेस्तरां और कैफे की सेवाएं शाम 6 बजे तक बंद करनी होंगी. लेकिन दुकानें और ज्यादातर कारोबार चालू रहेंगे। इटली में नए प्रतिबंध प्रधानमंत्री ज्यूसेप कोंटे और क्षेत्रीय नेताओं की आपसी सहमति से लगाए गए हैं। इतालवी प्रधानमंत्री कोंटे ने रविवार को एक प्रेस वार्ता में कहा, हमें लगता है कि इस महीने हमें थोड़ी परेशानी उठानी होगी लेकिन इन प्रतिबंधों की वजह से थोड़ी परेशानी झेलकर हम दिसंबर में दोबारा सांस लेने की स्थिति में होंगे।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल