मायके जाने की जिद में पैदल ही गांव से निकली विवाहिता, बीच रास्ते पति ने रेता गला, खुद भी लगा ली फांसी



अजय सिंह उर्फ राजू

करंडा/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के महाबलपुर गांव में बबूल के पेड़ के पास घायलावस्था में पड़ी युवती और उसके पति के लटकते शव मिलने से सनसनी फैल गई। घायल युवती को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।  जहां चिकित्सकों ने हालात गंभीर बताकर वाराणसी रेफर कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पति के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसके साथ ही घटना की छानबीन में जुट गई।  

चंदौली जिले के थाना धीना गांव मुरलीपुर निवासी संतोष बिंद की शादी पिछले वर्ष नंदगंज के श्रीगंज गांव के रामजी की पुत्री कविता के साथ हुई थी। ग्रामीणों के अनुसार सोमवार को संतोष अपने ससुराल श्रीगंज पहुंचा और अपनी पत्नी कविता से बहन के ससुराल तुलसीपुर जाने के लिए कहने लगा। पहले तो कविता जाने से मना कर दिया, लेकिन पति की जिद्द पर शाम चार बजे तुलसीपुर के लिए निकल पड़ी। पति उसको साथ लेकर सीधे गंगा किनारे रेती में पहुंचा और शराब पीने के बाद पत्नी से झगड़ा करने  लगा।

नाराज पत्नी पैदल तुलसीपुर गांव जाने लगी। इसके बाद पति संतोष ने पत्नी को मारते पीटते हुए चाकू से हमला कर दिया। चाकू के हमले से  लहुलुहान पत्नी भागने लगी। लेकिन पति किसी हालत में उसे छोड़ने को तैयार नहीं था, उसने उसका पीछा कर गला रेत दिया। इस घटना को अंजाम देने के बाद पति संतोष ने भी पत्नी की साड़ी से फांसी का फंदा लगाकर पेड़ से लटक गया। 

दरअसल, इस घटना की जानकारी तब हुई जब ग्रामीण खेतो की तरफ जा रहे थे, कि बबुल के पेड़ से लटकते युवक और घायल महिला देखा और वह शोर मचाने लगे। इसके बाद भारी संख्या में ग्रामीण जुट गए। इस दौरान युवती की सांस चल रही थी, उसने गांव के सामने लिखित बयान देने को कहा, वह जमीन पर ही लिखना चाहती थी कि तभी किसी ने कागज और पेन दिया। युवती ने लिखा कि मेरे पति ने मुझे चाकू मारा है और मरने की बात कह रहे थे। इस मामले की जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी। जिस पर पुलिस अधीक्षक डा. ओम प्रकाश सिंह  ने  घटनास्थल का जायजा लिया। वहीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर  पीएम के लिए भेज दिया। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल