हाथरस कांड के क्राइम सीन पर पहुंची सीबीआई टीम, कल हाईकोर्ट में पेश होगा पीड़िता परिवार


 


पीयूष दुबे

लखनऊ। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उत्तर प्रदेश के हाथरस में 19-वर्षीया एक युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में रविवार को मुकदमा दर्ज करके औपचारिक तौर पर जांच का जिम्मा संभाल लिया। सीबीआई ने उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में इस बाबत भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत हत्या का प्रयास (धारा 307), सामूहिक बलात्कार (376डी), हत्या (धारा 302) और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) कानून, 1989 की धारा-तीन (उत्पीड़न) के तहत मुकदमा दर्ज किया है।  
सीबीआई ने उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिश और तदनुरूप केंद्र सरकार के कार्मिक, जन शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय के अधीन कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग की ओर से कल देर शाम जारी अधिसूचना के बाद रविवार को मुकदमा दर्ज किया। इसके साथ ही सीबीआई की एक टीम रविवार को हाथरस पहुंची। जहां स्थानीय प्रशासन से कागजात लेकर क्राइम सीन पर पहुंचकर जांच की शुरूआत की। हाथरस केस पर सियासत के बीच पीड़ित परिवार 12 अक्तूबर यानि आज इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने पेश होगा। इस दौरान हाथरस डीएम, एसपी समेत यूपी के कई बड़े अफसर कोर्ट में कोर्ट में होंगे। जिनसे सवाल किया जा सकता है। गौरतलब है कि हाथरस में 14 सितम्बर को एक 19 वर्ष की युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार हुआ था, जिसकी बाद में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी थी। राज्य सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी, जिस पर केंद्र सरकार ने शनिवार देर रात मोहर लगा दी थी। 



Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल