विवाहिता को रास्ते में रोक कर अश्लील हरकतें करना पड़ा महंगा, कोर्ट ने पांच पर मुकदमा दर्ज करने का दिया निर्देश



अजय सिंह उर्फ राजू

गहमर/गाजीपुर। कोतवाली पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर पांच लोगों के खिलाफ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है। दरअसल, पीड़िता ने कोतवाली में न्याय नहीं मिलने पर न्यायालय की शरण ली थी।

कोतवाली क्षेत्र बसुका गांव निवासिनी ने तहरीर में आरोप लगाया था कि उसे अरसद पुत्र कोसी निवासी बसुका लंबे समय से परेशान कर रहा था। घर से बाहर कहीं जाने पर पीछा कर उससे छेड़छाड़ करता था। 19 जून को वह अपनी देढ़ वर्षीय पुत्री को बिस्कुट दिलाने दुकान पर जा रही थी। तभी अरशद रास्ता रोककर अश्लील हरकत करते हुए छेड़छाड़ करने लगा। विरोध करने पर  कपड़ा तक फाड़ दिया  था जिससे रखा मोबाइल गिर गया। 

चीख-पुकार सुन आस-पड़ोस के लोग आ गए तो आरोपित मेरा मोबाइल वहां से लेकर फरार हो गया। मेरी मां द्वारा अभियुक्त के घर शिकायत की गई तो उसके घर के लोग गाली-गलौज करते हुए मारने पिटने लगे, जिससे मेरी मां बुरी तरह से घायल हो गई। वहीं धमकी दिया कि पुलिस से शिकायत किया या दूबारा मेरे घर आई तो जान से मार दुंगा। इसके बाद अपनी मां के साथ गहमर कोतवाली मे तहरीर देकर इसकी शिकायत की लेकिन पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया। इस पर उसने न्यायालय की शरण ली। न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने गुरुवार की देर शाम को अरसद पुत्र कोसी, इकबाल, सोनी, मोनी व केना  निवासी बसुका के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।




 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल