प्रधान की गाड़ी में नक्सलियों के धमकी भरे पत्र व गाड़ी सहित गांव में दो बम मिलने की सूचना पर हड़कंप

नक्सलियों के धमकी भरे खत के साथ फर्जी बम व मांगे सत्रह लाख

बम निरोधक दस्ता, डॉग स्क्वायड मौके पर पहुँचा

गोपीगंज क्षेत्र के रामपुर कायस्थान गाँव की घटना

नक्सलियों के धमकी भरे खत के साथ दो देशी बम मिलने की सूचना पर जांच पड़ताल करती पुलिस


शाहनवाज खान

गोपीगंज। कोतवाली क्षेत्र के रामपुर कायस्थान गांव में रविवार की सुबह दो जगह पर बम होने की सूचना मिलने पर हड़कम्प मच गया। देशी बम प्रधान रमेश सिंह के घर में खड़ी बैगनार कार के ऊपर व दूसरा बम वहाँ से सौ मीटर की दूरी पर जमालुद्दीन खान के मकान के बाहर खेत में बरामद हुआ है। गांव में बम रखे जाने की सूचना मिलने के बाद ग्राम प्रधान ने पुलिस को सूचना दी तो गोपीगंज कोतवाली से पुलिस बल मौके पर पहुंची और लोगों से पूछताछ संग जांच में जुट गई। वहीं गांव के लोगों में भी किसी अनहोनी की आशंका होने लगी। मौके से एक पत्र मिलने के बाद सनसनी फैल गई। दरअसल पत्र में नक्सलियों की ओर से धमकी दी गई है। सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह, सीओ भूषण वर्मा व क्राइम ब्रांच की टीम मौके पर पहुँच गयी। जिंदा बम को निष्प्रभावी करने के लिए रामनगर वाराणसी से बम डिस्पोजल दस्ता बुलाया गया । 

पत्र के माध्यम से प्रधानों से मांगे सत्रह लाख

गोपीगंज। घटना स्थल के पास से ही एक हस्त लिखित पत्र भी मिला है, जिसमें ग्राम प्रधान रमेश सिंह से दो लाख रुपये तथा जमालुद्दीन खां से 10 लाख रुपयों की मांग की गई है। जमालुद्दीन के पत्र में बम के आरोपियों ने 10 लाख न होने पर 5 लाख रुपये से काम चलाने की बात लिखी गई है। ग्राम प्रधान पूरे शंभू से दो लाख, रामपुर घाट के प्रधान से एक लाख, ककराही ग्राम प्रधान से एक लाख रुपये की माँग की गई हैं। तथा बम रखने वाले लोगों ने अपने आप को नक्सली संगठन का होना बताया है ।

जाँच में बम मिला फर्जी, प्रशासन ने ली राहत की सांस

गोपिगंज। बम मिलने की सूचना पर स्क्वायड डॉग व बम निरोधक दस्ते ने मौके पर जांच पड़ताल की।संदिग्ध वस्तु की जांच कराया, देखा तो उसमें कागज के चार बंडल मिले। जबकि जमालुद्दीन के हाते के बगल में दूसरी जगह रखे गए संदिग्ध वस्तु डिब्बे में राख व इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मिले। जिसको बम निरोधक दस्ते ने काफी मशक्कत के बाद में निष्क्रिय किया। बम की सूचना गलत सिद्ध होने पर पुलिस अधिकारियों ने राहत की सांस ली।

दोषियों पर होगी कार्यवाही: एसपी

ज्ञानपुर। पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि एक स्थान पर रखी वस्तु में कागज के बंडल मिले जबकि दूसरे में एक सर्किट में पटाखे वाला बारूद मिला है। इसमे शरारती तत्वों का हाथ लग रहा है।प्रकरण की जाँच कराकर दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल