सुपरहिट शो 'मैडम सर' में वैशाली ठाकुर की दमदार एंट्री

पुलिस की भूमिका निभाना रोमांचक व चुनौतीपूर्ण: वैशाली ठाकुर



डॉ. दिलीप सिंह

इंदौर। सोनी सब का शो मैडमसर ‘दिल से पुलिसिंग’ के कॉनसेप्ट पर जोर देकर अपने दर्शकों का लगातार मनोरंजन कर रहा है। इस शो में चार महिला पुलिस अधिकारी अपने अनोखे तरीके से हर मामले को सुलझाती हैं। अब यह शो एक रोमांचक मोड़ लेने वाला है, और बेहद प्रतिभाशाली अभिनेत्री, वैशाली ठक्कर ने हेड कॉन्स्टेबल बबिता सरकार के रूप में इस शो में एंट्री की है, जिसने करिश्मा (युक्तिकपूर) और हसीना (गुलकी जोशी) को उनके पुलिस एकेडमी के दिनो ंमें ट्रेनिंग दी थी। बबिता सरकार करिश्मा को उसके पुलिस एकेडमी के दिनो ंको वापस याद दिलाने के लिए बिलकुल तैयार हैं। 

बबिता ने ही करिश्मा को तैयार किया और आज वो जो अधिकारी है, उसके लिए उसका मार्गदर्शन किया। जहां करिश्मा बबिता का बहुत आदर करती है और उसे अपने एक गुरु की तरह मानती है, तो वहीं बबिता करिश्मा के एक्शन और उसके निर्णय को लेकर थोड़ी आलोचना करती है लेकिन हसीना का पूरी तरह से समर्थन करती है। करिश्मा कैसा महसूस करेगी जब उसकी गुरु हसीना और उसके निर्णयों का सहयोग करेगी? क्या बबिता की एंट्री हसीना और करिश्मा के बीच के तनाव कोऔरज्यादा बढ़ा देगी?

अपने किरदार के बारे में बात करते हुए बबिता सरकार उर्फ वैशाली ठक्कर ने कहा, बबिता सबसे दिलचस्प किरदारों में से एक है जिस मुझे अब तक निभाने का मौका मिला है। जब मुझसे इस भूमिका के लिए संपर्क किया गया, तो सबसे ज्यादा जिस चीज ने मुझे आकर्षित किया वो थी इस किरदार के विभिन्न और कई रूप। बबिता किसी पर दबाव डालने वाला, पावरफुल और देखभाल करने वाला बहुत ही मजबूत किरदार है।

वह अपने सिद्धांतों पर चलने वाली है। महिला पुलिस थाने में उस की एंट्री में सबसे ज्यादा दिलचस्प तथ्य है कि वह हसीना और करिश्मा दोनों की ही गुरु रह चुकी है और उसने उन दोनों को प्रशिक्षित किया है। हसीना और करिश्मा के बीच इस झड़प के साथ यह देखना वाकई रोमांचक होगा कि कैसे बबिता इस थाने की हवा में बदलाव लाती है और अपना स्टाइल इस में डालती है। 

वैशाली ने सेट पर अपने अनुभव और इस महत्वपूर्ण भूमिका को निभाते समय जो चुनौतियां उसके सामने आईं, उनके बारे में खुलासा करते हुए कहा, यह पहली बार है जब मैं पुलिस की भूमिका निभा रही हूं। यह रोमांचक है और एक कलाकार के तौर पर मुझे कई लेवल पर चुनौती देता है। मेरे लिए यूपी की बोली को सही से पकड़ना बहुत ही मुश्किल टास्क था, लेकिन मुझे खुशी है कि शूटिंग के दौरान मैं इसमें सुधार कर पाई। 

बबीता एक लाउड, बहुत ही पावरफुल और दबंग किरदार है। इस तरह के किरदार में ऊर्जा डालना और उसे निभाना काफी मजेदार था। मुझे अभी शूटिंग पर कुछ ही समय हुआ है लेकिन मुझे यहां की आबोहवा बहुत अच्छी लग रही है। खासकर युक्ति के साथ, क्योंकि हमारे साथ में कई सीन है, उन्होंने मुझ तुरंत ही सेट पर बहुत सहज महसूस करवाया।




Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल