इस कुर्सी पर कैसे बैठे आप?, थानाध्यक्ष ने नायाब तहसीलदार पर झाड़ा पुलिसियां रौंब, की अभद्रता


नायाब तहसीलदार सहित राजस्व कर्मियों ने छोड़ा थाना दिवस

उच्चाधिकारियों से की थानाध्यक्ष द्वारा किये गये दुर्व्यवहार की शिकायत

दुर्व्‍यवहार के बाद थाना दिवस से निकले नायाब तहसीलदार व राजस्‍वकर्मी


महर्षि सेठ

मुंगराबादशाहपुर(जौनपुर)। स्थानीय थाने पर आयोजित थाना दिवस में उस समय अफरा-तफरी मच गई। जब थाना दिवस में बैठे नायब तहसीलदार को थानाध्यक्ष ने कुर्सी छोड़ने के लिए कह दिया। आरोप है कि थानाध्यक्ष ने नायब तहसीलदार को अपशब्द भी कहे। जिससे नाराज होकर नायब तहसीलदार व राजस्व कर्मी लेखपाल थाना दिवस छोड़कर चले गए।

थाने पर आयोजित थाना दिवस में लगाई गई। कुर्सी पर बैठकर नायब तहसीलदार मांधातासिंह फरियाद सुन रहे थे। इस दौरान थानाध्यक्ष सत्य प्रकाश सिंह स्थल पर पहुंचे और उन्होंने नायब तहसीलदार को कुर्सी छोड़ने के लिए कह दिया। कहा कि यह प्रभारी की कुर्सी है, इस पर आप कैसे बैठ गए। 

रौब दिखाने वाले थानाध्‍यक्ष


नायब तहसीलदार ने जवाब दिया कि मैं यहां थाना दिवस प्रभारी बनाकर ही भेजा गया हूं। यह सुनते ही थानाध्यक्ष बिफर पड़े और पुलिसिया रौब झाड़ते हुए नायब तहसीलदार पर अपशब्द प्रयोग करने लगे। थानाध्यक्ष का व्यवहार देखकर लोगों की आंखें खुली रह गई। नायब तहसीलदार ने थानाध्यक्ष के द्वारा किए गए दुर्व्यवहार की जानकारी उच्च अधिकारियों को दी। 




अधिकारियों से प्राप्त निर्देश पर थाना दिवस छोड़कर चले गए। नायब तहसीलदार के साथ राजस्व कर्मी भी थाना दिवस छोड़कर बाहर निकल गए। इस संदर्भ में पूंछे जाने पर नायब तहसीलदार मांधाता सिंह ने बताया कि थानाध्यक्ष ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया एवं अपशब्दों का प्रयोग किया। वहीं थानाध्यक्ष सत्य प्रकाश सिंह ने दुर्व्यवहार व गाली गलौज की  बात अस्वीकार कर दी।





Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल