फर्जी कार्ड पर राशन पा रहे लोग, बड़े घोटालेबाजी को लेकर सीएम पोर्टल पर शिकायत



संजय सिंह कुशवाहा

कठवामोड़/गाजीपुर। जिला पूर्ति विभाग में भ्रष्टाचार की जड़ खत्म होने का नाम नही ले रहा है। विभागीय अधिकारी, कर्मचारी शिकायर्ता को  गलत सूचनाएं देकर मनमानी कार्य करने में लगे है। ऐसे में गरीबों का हक मारा जा रहा है।    

विकास खण्ड मुहम्मदाबाद स्थित शहबाजकुली गांव ग्रामीणों ने कोटेदार के खिलाफ जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत किया था। आरोप लगाया था कि  कोटेदार गंगा सागर पांडेय अपने परिवार के सरकारी नौकरी और गांव के कुछ लोगो का फर्जी राशनकार्ड बनवा कर राशन वित्तरण कर घोटाला किया जा रहा है। इसके अलावा कोटेदार दूसरे गांव के लोगों के नाम पर भी राशन वितरण में खेल करने में लगा हुआ है। 

ग्रामीणों का कहना है कि शिकायत में राशन कार्ड का नम्बर सहित सीएम पोर्टल पर शिकायत कर जांच की मांग की गई थी। जिसमें पूर्ति निरीक्षक मुहम्मदाबाद सुरेंद्र प्रताप ने जांच रिपोर्ट में लिखा कि राशन कार्ड की सूची का अवलोकन किया गया और विक्रेता से पूछताछ की गई। सूची में ऐसा कुछ नही मिला जो गलत फीड हुआ है, यह शिकायत ही निराधार है। इस गलत रिपोर्ट से आहत शिकायतकर्ता सुनील कुशवाहा ने डीएम को शपथ पत्र देकर साक्ष्य सहित नौकरीपेशा वाले कार्डधारको के नाम सौंपा। इसके साथ ही जांच अधिकारी और कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग किया है।  

इस संदर्भ में पूर्ति निरीक्षक मुहम्मदाबाद सुरेंद्र प्रताप ने बताया कि जब मुझे जांच मिली तो उस समय कोई गलत राशन कार्ड नही पाया गया था।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल