ट्विटर ने भारत के इस राज्य को बताया चीन का हिस्सा, मचा बवाल, केन्द्र की चेतावनी

आईटी सचिव ने ट्विटर को लेटर लिखकर संवेदनशीलता से काम करने की दी चेतावनी



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। ट्विटर ने बीते 18 अक्टूबर को अपने प्लेटफार्मपर भारत के केन्द्र शासित प्रदेश लेह को चीन में दिखाया है। जिसके बाद बवाल मच गया। भारत ने ट्विटर की इस संवेदनहीनता पर कड़ी चेतावनी देते हुए ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी से संवेदनशीलता से काम करने को कहा है। हालांकि ट्विटर ने जवाब देते हुए कहा है कि हम भारत सरकार के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। हम इसमें शामिल संवेदनाओं का सम्मान करते हैं।

इस पूरे मामले में केंद्र सरकार के आईटी सचिव अजय साहनी ने ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी को चिट्ठी लिखी थी। केंद्र सरकार ने ट्विटर द्वारा भारत के नक्शे को गलत इस्तेमाल पर आपत्ति दर्ज कराई। 

आईटी सचिव अजय साहनी ने कहा कि लेह केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख का हिस्सा है। लद्दाख और जम्मू-कश्मीर भारत के अभिन्न हिस्से हैं, जो भारत के संविधान द्वारा शासित हैं। सोशल साइट को भारत के लोगों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। भारत की संप्रभुता और अखंडता के साथ किया गया अपमान स्वीकार नहीं किया जाएगा और ये कानून का भी उल्लंघन होगा।

ट्विटर को कड़ी चेतावनी देते हुए आईटी सचिव अजय साहनी ने लिखा कि  ऐसे कार्यों से न सिर्फ ट्विटर की साख गिरती है बल्कि ट्विटर की तटस्थता और निष्पक्षता पर भी सवाल उठते हैं।

हालांकि इस मामले जवाब देते हुए ट्विटर इंडिया ने कहा कि हम रविवार को आई इस तकनीकी दिक्कत से अवगत हैं। हम इसके संवेदनाओं को समझते हैं और उनका सम्मान करते हैं। दिक्कत को सही करने के लिए टीम तेजी से काम कर रही है और जियोटैग के मसले का जल्द ही हल निकाल लिया जाएगा। 




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

कुशवाहा कांतःअनुभूतियों में हमेशा जिंदा रहेंगे कालजयी साहित्य के अमर शिल्पी