स्कूल परिसर में पंचायत भवन और सामुदायिक शौचालय का निर्माण! कैसे होगी बच्चों की पढ़ाई

सामुदायिक शौचालय एवं पंचायत भवन निर्माण को लेकर विरोध



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। प्रदेश सरकार ने प्रत्येक ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन व सामुदायिक भवन बनाने का निर्देश दिया है। जिसको लेकर जिले के आलाधिकारी लगातार प्रयासरत है। लेकिन इस कार्य में निर्माण को लेकर भूमि की काफी समस्या हो रही है। किसी गांव में अवैध कब्जा हो गया है तो कहीं स्कूल की बाउंड्री के अन्दर जमीन है। 

ऐसा ही मामला मनिहारी ब्लाक के खुटहन उर्फ परसोतिया गांव में देखने को मिला है। जहां प्राथमिक विद्यालय के बाउंड्री वाल के अंदर पंचायत भवन का निर्माण कराया जा रहा है। वहीं सामुदायिक शौचालय के निर्माण को लेकर स्कूल प्रशासन ने विरोध जताया है। खंड शिक्षा अधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी श्रवण कुमार गुप्ता को यह जानकारी दिया है। प्रधानाध्यापिका सुमित्रा यादव ने कहा कि विद्यालय प्रांगण के अन्दर  सार्वजनिक शौचालय व पंचायत भवन बनने से पठन पाठन पर असर पड़ेगा। 

इसके साथ ही गन्दगी होने से बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ेगा। ऐसे में स्कूल प्रांगण के बजाय दूसरे स्थान पर निर्माण होना चाहिए। इस मामले में खंड शिक्षा अधिकारी सुदामा ने बताया कि इसकी जानकारी बेसिक शिक्षा अधिकारी और एसडीएम को दे दी गई है। विद्यालय की बाउंड्री के अन्दर जो निर्माण हो रहा है, उससे छात्रों की शिक्षा पर काफी प्रभाव पड़ेगा। 

प्रधान और लेखपाल से इस निर्माण को लेकर बात किया गया था, जिस पर उन लोगों द्वारा बताया गया कि पंचायत भवन के नाम से जो नक्शे में भूमि है वह स्कूल के चारदिवारी के अंदर ही है। उन्होंने बताया कि इस समस्या को लेकर बड़े अधिकारियों से वार्ता होगी। ताकि विद्यालय की पवित्रता कायम रह सके। यह गांव के आपसी सहमती के बाद ही संभव हो पाएगा।



Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल