लव जेहाद के मामले में भड़के भाजपाइयों ने किला थाने में की तोड़फोड़, पुलि‍स ने चलाई लाठि‍यां




राधा बल्लभ अग्रवाल


इंस्पेाक्टचर किला सतीश कुमार को किया लाइन हाजिर

चौकी इंचार्ज मलूकपुर हुए सस्पेंड

सीओ किला का प्रभार संभाल रहे आईपीएस साद मियां की भी भूमिका की जांच के आदेश

विवाद की आशंका से किला इलाके में कुछ जगहों पर फोर्स तैनात


बरेली। लव जेहाद के मामले में मंगलवार को भाजपाइ भड़क गए जिसके बाद किला थाने पहुंचे भाजपाइयों ने जमकर हंगामा करने के साथ-साथ तोड़फोड़ भी शुरु कर दी। पुलि‍स ने हालात काबू करने के लिए लाठीचार्ज किया। इसके साथ ही भाजपाइ सीओ से भी भि‍ड़ गए। दरअसल 17 अक्टूीबर को आठ लाख नकदी व जेवरों के साथ संदि‍ग्धभ हालातों में नाबालि‍ग छात्रा गायब हुई थी। इस मामले में गायब छात्रा के परिजनों ने दूसरे समुदाय के युवक पर आरोप लगाए थे। इसी मामले को लेकर भाजपाइ आक्रोश व्यदक्त  करने किला थाने पहुंचे थे।  

गायब हुई छात्रा का मंगलवार को वीडि‍यो वायरल हुआ। जि‍समें छात्रा ने अपने आप को बालिग बताते हुए अपनी मर्जी से शादी करने की बात कह रही है।

इस मामले में एसपी सिटी ने बताया कि छात्रा और आरोपी की तलाश में चार टीमें लगाई गई हैं जो दोनों की तलाश कर रही हैं। दोनों के मिलने के बाद उसे कोर्ट के समक्ष पेश करने की कार्रवाई की जाएगी। हालांकि मामले में छात्रा ने वीडि‍यो वायरल कर अपने बालि‍ग होने की बात कही है।

बरेली कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई कर रही एक नाबालिग छात्रा कोचिंग जाने के दौरान संदिग्ध हालात में लापता हो गई थी छात्रा अपने साथ घर मे रखे लाखों रुपये जेवर भी लेकर गई है। परिजनों ने एक दूसरे समुदाय के युवक पर छात्रा को रुपयों के लिए गायब करने और उसकी हत्या करने की आशंका जाहिर की थी।

परिजनों के अनुसार छात्रा दिमागी रूप से बीमार है और उसका इलाज चल रहा है। प्रेमनगर निवासी एक निजी कॉलेज में बड़े पद पर तैनात छात्रा के पिता का आरोप है कि उनकी बेटी 17 वर्ष की है। बेटी की इस समय मानसिक स्थिति ठीक न होने की बात कही थी कि शनिवार को कोचिंग जाने की बात कहकर वह निकली थी फिर वापस नहीं लौटी।

अफसरों ने मामले में चौकी इंचार्ज गढ़ी और मलूकपुर के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया है मगर प्रदर्शनकारी युवती के अपहरण के मामले में अभियुक्त बिलाल और उसके दोस्तै व परिवार वालों की अरेस्िं र ग के साथ लड़की की बरामदगी की मांग कर रहे थे। यहां बता दें कि किला इलाके से बेटी के गायब होने के मामले में पिता ने बिलाल सहित कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। पुलिस पर आरोप है कि आरोपियों को जानबूझकर नहीं पकड़ा गया, जबकि घरवाले लड़की को छिपाए जाने की जगह भी इंस्पेकक्टथर व चौकी इंचार्ज को बता रहे थे। इस बीच सोशल मीडिया पर लडकी का ऐसा वीडियो वायरल हो गया, जिसमें वह मर्जी से आरोपी बिलाल के साथ जाने और खुद को बालिग बताते हुए उसके साथ शादी कर लिए जाने की बात कह रही थी। दोपहर बाद मंगलवार को किला थाने में हिन्दू संगठनों के नेता और कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटी तो पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू हो गई। विहिप नेता रामाशंकर उस समय कार्यकर्ताओं को शांत कर रहे थे। कार्यकर्ताओं का कहना है कि पुलिस ने विहिप नेता रामाशंकर के साथ बदसलूकी करते हुए उनसे धक्काम-मुक्‍की की। इससे कार्यकर्ता आक्रोशित होकर कुर्सिीयां फेंकने लगे। पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया, कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। थाने की दीवार कूदकर भाग रहे कार्यकर्ताओं पर भी लठियाँ भांजी गईं।

लड़की के सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को उस पर दबाव देकर जबरन बनवाए जाने के आरोप लगाते हुए हिन्दू संगठन के नेता इसे कथित रूप से लव जेहाद का मामला बता रहे हैं और पुलिस पर आरोपियों से मिलीभगत होने का आरोप लगा रहे हैं।  एसएसपी ने किला थाने में मीडिया को बताया कि युवती के अपहरण के बाद कार्रवाई में देरी को लेकर इंस्पेाक्टेर किला सतीश कुमार को तत्कारल प्रभाव से लाइन हाजिर और चौकी इंचार्ज मलूकपुर को सस्पेंरड कर दिया गया है। गायब लड़की की बरामदगी के प्रयास जारी हैं। वहीं, एडीजी ने बताया है कि पूरे मामले में सीओ किला का प्रभार संभाल रहे आईपीएस साद मियां की भी भूमिका की जांच कराई जाएगी। उनका किसी भी तरह से दोष सामने आया तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई को शासन को लिखा जाएगा। इधर, विहिप के महानगर मंत्री नीरू भारद्वाज ने प्रेस विज्ञप्िल   जारी कर रहा है कि अगवा की गई बेटी को पुलिस ने जल्दीा ही बरामद कर सभी आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं की तो इस मामले में धर्म पंचायत का आह़वान किया जाएगा। आरोप-प्रत्या रोपों के बीच मामला पुलिस की गले की फांस बनता नजर आ रहा है। एडीजी ने एसएसपी को इस मामले में जरूरी दिशा–निर्देश दिए हैं। विवाद की आशंका से किला इलाके में कुछ जगहों पर फोर्स की तैनाती भी अफसरों ने करा दी है। खुफिया टीमों को इलाके के हालात पर नजर रखने के काम में जुटा दिया है।

Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल