पेट्रोल छिड़क कर जलाये गये किसान की इलाज के दौरान मौत, परिजनों में कोहराम



प्यारेलाल यादव

चिरईगांव। बीते 14 अक्टूबर को पेट्रोल छिड़कर जिंदा जलाये जाने के बाद बुरी तरह झुलसे किसान की सोमवार को मौत हो गई। किसान की मौत के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। किसान का इलाज एक निजी चिकित्सालय में किया जा रहा था। 

ज्ञातव्य हो कि चौबेपुर थानांतर्गत छितौना गांव निवासी राजेन्द्र यादव (62) को 14 अक्टूबर की रात्रि को अपने पाही पर सोया हुआ था। उसी दिन रात लगभग दो बजे जब आग लगाई गई तो उनकी नींद खुली। वह भागते हुए कुछ दूर जाकर गिर गया। पति की चीख सुनकर उनकी पत्नी ने जब देखा तो शोर मचायी। शोर सुनकर ग्रामीण भी मौके पर पहुंचे और गंभीर रूप से जले किसान को निजी हास्पिटल में भर्ती कराये थे। जहां उपचार के दौरान आज सोमवार को मौत हो गयी। 



किसान की मौत पर परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया। किसान की पत्नी बार-बार अचेत हो जा रही थी। किसान के बेटे इंद्रेश की तहरीर पर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। मृतक किसान का अंतिम संस्कार सरसौल बलुआघाट किया गया। 




Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल