सड़क किनारे पड़े झोले से आ रही थी रोने की आवाज, खोल कर देखा तो रह गये अवाक!

झोले में मिला लावारिश शिशु, गांव के ही नंदकिशोर ने लिया गोद



अजय सिंह उर्फ राजू

दिलदारनगर/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के कुसी गांव के सामने रजवाहा किनारे बुधवार की सुबह पांच बजे झोले में नवजात शिशु मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। गांव के नंदकिशोर खरवार ने शिशु को नगर स्थित निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया।

कुसी गांव के ग्रामीण सुबह में शौच के लिए रजवाहा किनारे गए थे। रजवाहा किनारे उपला का ढेर के पास शिशु के रोने की आवाज सुनाई दी, तो ग्रामीण वहां पहुंचे तो कपड़ा में लपेटकर झोला में नवजात शिशु मिला। ग्रामीण नवजात को उठाकर गांव में लेकर पहुंचे तो शिशु को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। गांव के ही नंदकिशोर खरवार शिशु को लेकर कस्बा स्थित निजी अस्पताल में उपचार के लिए ले गए। बताया कि मुझे केवल चार पुत्रियां हैं, इसलिए नवजात शिशु को ले लिया हूं।





Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

सेक्स पावर बढ़ाती है गोरखमुंडी, जानिए इसके सेवन का तरीका और फायदा

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए