चना वितरण में खेल कर रहे कोटदार, विभाग अनजान, आखिर इसका कौन है जिम्मेदार?




अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। कोरोना महामारी को लेकर शासन ने सभी कार्डधारकों को दो किलो चना देने का आदेश जारी किया है। लेकिन कोटेदार घोटाले की नियत से  दो किलो की जगह एक किलो चना देकर लोगो को चलता कर दे रहें है। विरोध करने पर मारपीट पर उतारू भी हो जा रहें है। जिले में यह शिकायत अधिकतर ब्लाकों में है। जहां मानक के अनुसार चना का वितरण नहीं किया गया है।

शासन के आदेश पर कोरोना महामारी को देखते हुए सभी  कार्डधारकों को राशन की दुकानों से फ्री चावल, गेहूं के साथ दो किलो चने देने का निर्देश जारी हुआ है। लेकिन जिले में कार्डधारकों को दो किलो की जगह एक किलो ही चना मिल रहा है। जिले में 16 ब्लाकों के अन्तर्गत अन्त्योदय 59 हजार 537 तथा पात्र गृहस्थी पांच लाख 72 हजार आठ सौ ग्यारह कार्डधारक है। शासन के निर्देशानुसार सभी को दो किलो चना देना अनिवार्य है। 

जबकि बिरनो, मरदह, कासिमाबाद, मनिहारी, जखनियां सहित अन्य ब्लाकों में भी एक किलो चना देने की बात सामने आ चुकी है। वहीं कार्डधारको दो किलो कोटेदारों से चना मांगने पर कोटेदार मारपीट पर उतारू हो जाते है। बानगी के तौर पर बिरनो विकास खंड के अराजी ओड़ासन में ग्रामीणों ने कोटेदार की दबंगई की शिकायत जिलापूर्ति अधिकारी से लिखित कर चुके है। वहीं कासिमाबाद के कार्डधारकों ने जिलाधिकारी से इस मामले को लेकर कोटेदार की शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है। 

शिकायत किया था कि सितंबर माह में दो किलो चना के साथ गेहूं, चावल मिलना है लेकिन कोटेदार दो किलो चना नहीं दे रहें है। सूत्रों के अनुसार कासिमाबाद के जहूराबाद, चकजैनब, मलिकपुरा, खजुहा, सिपाह, सोनबरसा, गंगौली, महेशपुर आदि गांव के कोटेदारों ने चना वितरण में धांधली की शिकायत की थी। सवाल उठता है कि जहां भी इस तरह का वितरण घोटाला हुआ है। इसका जिम्मेदार कौन है? गरीबों के हक पर कोटेदार डाका डालने में लगे हुए है। जिसको लेकर लगातार ग्रामीण शिकायत कर रहें है। 

इस मामले में जिलापूर्ति अधिकारी कुमार निर्मलेंदू ने बताया कि चना वितरण में उठान के वजह से कहीं कहीं परेशानी हुई है। जहां इस तरह का मामला है वहां सही वितरण करा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी कार्डधारकों को दो किलो चना वितरण करना है। इस कार्य में लापरवाह कोटेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल