... क्या पीडब्ल्यूडी अधिशासी अभिंयता की होगी अनिवार्य सेवानिवृति? उप सचिव ने प्रमुख अभियंता को लिखा पत्र

मुख्य अभियंता ने कार्रवाई का दिया था आदेश



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। पीडब्ल्यूडी अधिशासी अभिंयता के खिलाफ शासन उप सचिव ने प्रमुख अभियंता को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है। लोक निर्माण विभाग में  कार्यरत अधिशासी अभियंताओं की सरकारी सेवाओं के दक्षता सुनिश्चित करने के लिए 50 वर्ष से अधिक आयु पूर्ण कर चुके अधिशासी अभियंताओं की स्क्रीनिंग करने की मांग किया है।

उतर प्रदेश शासन उप सचिव आनंद प्रकाश सिंह ने पीडब्ल्यूडी में तैनात पचास वर्ष उपर नौकरी में तैनात चार अधिशासी अभियंताओं की स्क्रीनिंग  करने के लिए प्रमुख सचिव को बीते नौ अक्टूबर को पत्र के माध्यम से अवगत कराया है। जिसमें जिले के अधिशासी अभियंता जितेंद्र कुमार का भी नाम है। इनकी ज्येष्ठता क्रमांक 1878 है। इसके अलावा उप सचिव ने अन्य अधिशासी अभियंता जो पचास वर्ष की आयु से अधिक है उन्हें अनिवार्य सेवाभिलेख विभागीय अनुशासनिक कार्यवाही अभियोजन प्रशासनाधिकरण सतर्कता निलंबन आदि होने न होने की सूचना सहित प्रस्ताव शासन को उपलब्ध कराने को कहा है। 

यह जानकारी मिलते ही विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। दरअसल,  पीडब्ल्यूडी मुख्य अभियंता वाराणसी राकेश राजवंशी ने अधीक्षण अभियंता जौनपुर-गाजीपुर को विगत 19 सितंबर को पत्र लिखकर वर्षो से जमे कई विभागों पर कब्जा जमाए  सहायक अभियंता राकेश कुमार को निर्माण खंड -3 से कार्यमुक्त करने को लेकर  आदेश दिया था। इसके साथ ही सहायक अभियंता के कार्यमुक्त की कार्रवाई में लापरवाही पर अधिशासी अभियंता जितेंद्र कुमार के विरूद्ध अनुशासनिक कार्यवाही के लिए नियम-7 के अन्तर्गत आरोप पत्र गठित कर तीन दिन के अंदर उपलब्ध कराने को कहा था।

 




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

दहेज के लिए मां को किया बच्चों से दूर, मधुर तरंग होटल मालिक पर गंभीर आरोप, रसूख के दबाव में काम कर रही पुलिस

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए