औचक निरीक्षण पर पहुंचे बीएसए ने पांच शिक्षकों का रोका वेतन, कंपोजिट ग्रांट के तहत स्कूलों में कार्य ना होने पर नाराजगी



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। जिला बेसिक अधिकारी ने परिषदीय विद्यालयों पर शुक्रवार को औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में एक प्रधानाध्यापक सहित दो शिक्षकों का अनुपस्थित होने तथा दो शिक्षकों के कार्य पर असंतोष व्यक्त करते हुए वेतन रोकने का आदेश दिया। बीएसए की कार्रवाई से जिले के सभी शिक्षकों में हड़कंप का माहौल बना हुआ है।

शासन के निर्देशानुसार परिषदीय विद्यालयों की दशा सुधारने के लिए कंपोजिट ग्रांट सहित स्कूलांे की पढ़ाई को लेकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्रवण कुमार गुप्ता ने सदर एवं मुहम्दाबाद विकास खंडो के कई स्कूलों का निरीक्षण किया। दरअसल, जनसंदेश टाइम्स ने ‘दस करोड़ कंपोजिट ग्रांट का नहीं मिला लेखा -जोखा’ शीर्षक से प्रमुखता से खबर प्रकाशित किया था।

जिसके बाद विभाग ने संज्ञान में लेकर ताबड़तोड़ चेकिंग अभियान शुरू कर दिया है। बेसिक शिक्षा अधिकारी इस मामले को गंभीरता से लेते हुए स्कूलों में चेकिंग अभियान शुरू कर दिये है। उन्होंने निरीक्षण के दौरान सबसे पहले मुहम्मदाबाद ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय डारीडीह में प्रधानाध्यापक अखिलेश कुमार यादव और सहायक अध्यापिका पूजा राय अनुपस्थित मिली। वहीं, सहायक अध्यापक राजाराम पांडेय उपस्थित रहे। बेसिक के निरीक्षण में स्कूल परिसर में साफ सफाई की व्यवस्था सहीं नहीं थी। कंपोजिट ग्रांट का पैसा खर्च नहीं हुआ था। इसके साथ ही बच्चों को पाठ्य पुस्तक का भी वितरण नहीं किया गया था। इसके साथ ही आनलॉइन क्लास भी नहीं चलाया जा रहा था। 

तत्पश्चात सदर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय नागतारा में भी बेसिक अधिकारी के निरीक्षण में सहायक अध्यापक रेनू यादव अनुपस्थित मिली। वहीं उपस्थित प्रधानाध्यापक प्रीति सिंह से विद्यालय में कंपोजिट ग्रांट के पैसे न खर्च करने पर फटकार लगाई। साथ ही स्कूल परिसर में साफ सफाई को लेकर हिदायत दिये। आनलॉइन क्लास और पुस्तक भी नहीं वितरण हुआ था। सितंबर माह तक मात्र चार नया नामांकन मिला। बेसिक शिक्षा अधिकारी श्रवण कुमार गुप्ता ने सभी से स्पष्टीकरण मांगते हुए अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का आदेश दिया।     





Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल