बसपा नेता ने जहर खाकर की आत्महत्या, मरने से पहले सुसाइड नोट में लिखी चौंकाने वाली वजह!

विधान सभा टिकट के लिए मोटी रकम की मांग का लगाया आरोप



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। कोतवाली क्षेत्र के महाराजगंज में एक बसपा नेता ने जहर खाकर जान दे दी। मरने से पहले बसपा नेता ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है। जिसमें उसने विधानसभा से टिकट के लिए पैसे की डिमांड को लिखा है। हालांकि, पुलिस सुसाइड नोट की जांच करने में जुटी है कि यह प्रायोजित है या इसका घटना से इसका कोई सम्बन्ध है।

महाराजगंज निवासी 62 वर्षीय मुन्नू प्रसाद ठठेर गांव में साइकिल से बर्तन बेचने का कार्य करता था। उसकी राजनीति में काफी दिलचस्पी थी। जिस वजह से दलों में काफी रुचि लेता था। वह बसपा का सक्रिय सदस्य था। जिले में जब भी बसपा का कार्यक्रम लगता वह बढ़ चढ़कर हिस्सा लेता था, बताया जा रहा है कि पार्टी के कार्यक्रमों में चारपहिया वाहन से सहयोग भी करता था। 

क्षेत्रवासियों के अनुसार मुन्नू इधर कुछ दिनों से क्षेत्र में घूम-घूमकर लोगों से कहता था कि इस बार सदर विधानसभा से विधायक का चुनाव लड़ेंगे, बहन जी से बात हो गई है। मृतक ने सुसाइड नोट में इस बात का जिक्र किया है कि टिकट के लिए मुझसे 2 करोड़ की मांग की गई है। वहीं मृतक की क्षेत्र में पहचान बसपा कार्यकर्ता के रूप में है। 

मालूम हो कि मुन्नू प्रसाद के तीन पुत्र है, दीपक पिता के साथ रहकर व्यवसाय में सहयोग करता था, जबकि दोनों पुत्र डब्लू, बब्लू पत्नी दुर्गा के साथ मुंबई में रहते है। बुधवार की सुबह 6 बजे दीपक चाय बनाकर पिता मुन्नू प्रसाद को जगाने अपने उनके कमरे में गया। मुन्नू प्रसाद रोज की भांति खाना खाकर आधा कमरा खुला हुआ छोड़कर सो जाते थे। दीपक जब कमरे में चाय लेकर गया तो कमरे में बिस्तर पर पिता के शव को देखकर अवाक रह गया, उसके शोर करने पर आस पास के लोगों की भीड़ जुट गई। स्थानीय लोगों ने जिला अस्पताल भेजा जहां उसकी मौत हो गई। 

बताया जा रहा है कि उसकी मौत जहर खाने से हुई है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया। महराजगंज चौकी प्रभारी  राजेश कुमार मिश्र को सदर अस्पताल में मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला। जिसे पुलिस कब्जे में लेकर छानबीन में जुट गई है। कोतवाली प्रभारी विमल मिश्र ने बताया कि सुसाइड नोट मृतक के पास से मिला है, इसकी जांच की जा रही कि यह प्रायोजित है या इसका घटना से कोई सम्बन्ध है।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल