ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि की हत्या करने आये चार बदमाश चढ़े हत्थे, इस व्यक्ति ने दिये थे गाड़ी और हथियार



जनसंदेश न्यूज़
जखनियां/गाजीपुर। पुलिस अधीक्षक द्वारा अपराध एवं अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत प्रभारी निरीक्षक भुड़कुड़ा एवं वरिष्ठ उपनिरीक्षक नागेंद्र उपाध्याय कस्बे में मौजूद थे। सर्विलांस प्रभारी विनीत राय से अपराधियों पर लगाम लगाने को लेकर बातचीत चल रही थी। 


इस दौरान मुखबिर द्वारा सूचना मिलने पर चौजा पुल के पास पुलिस वाहन चेकिंग करने लगे। उसी समय दो मोटरसाइकिल पर चार संदिग्ध व्यक्ति आते हुए दिखाई दिए। जिन्हें पुलिस ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन बाइक सवार पुलिस को देखकर विपरीत दिशा में भागने लगे। जिन्हें पुलिस के जवानों ने दौड़ाकर पकड़ लिया। पुलिस ने उनके पास से एक 32 बोर का पिस्टल, चार जिंदा कारतूस, दो अदद तमंचा 315 बोर, चार जिंदा कारतूस एवं एक चोरी की मोटरसाइकिल दो मोबाइल फोन बरामद हुआ। 


गिरफ्तार युवकों ने पिस्टल व तमंचा के बारे में कोई जवाब नहीं दिया। पुलिस की  कड़ाई से पूछताछ में बताया कि रविंद्र मौर्य जो अवधू सिंह यादव का मित्र है, उसके द्वारा हथियार व गाड़ी हमें दी गई थी। अभियुक्तों ने बताया कि जखनियां के ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि सत्येंद्र प्रताप सिंह उर्फ मसाला सिंह की हत्या करनी थी। गिरफ्तार हुए अभियुक्त जगरनाथ कुशवाहा पुत्र फौजदार कुशवाहा तथा नागेंद्र मौर्य पुत्र जगन्नाथ मौर्य निवासी मीरा रहेटी थाना दुल्लहपुर एवं सुधीर कुशवाहा पुत्र भगवान कुशवाहा व उमेश यादव पुत्र कमला यादव मंझनपुर थाना भुड़कुड़ा के निवासी  हैं। 


गिरफ्तार करने वालों में भुड़कुड़ा पुलिस, स्वाट टीम प्रभारी, हेड कांस्टेबल अवधेश सिंह ,राम भवन, राणा प्रताप सिंह, द्वारकानाथ यादव, रामप्रताप ,विनय यादव, भाई लाल सोनकर, रोहित चौहान ,संजय कुमार, आशुतोष सिंह, ओमप्रकाश सिंह रहें। 



Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल