चंदौली में इस गांव के प्रधान पर 85 वर्षीय वृद्ध ने मकान कब्जा करने का लगाया आरोप



आरिफ हाशमी

धानापुर/चंदौली। क्षेत्र के मिश्रपुरा (बड़ौरा) में 85 वर्षीय वृद्ध की जमीन हथियाने का मामला प्रकाश में आया है। आरोप है कि कानपुर में निवासरत कैलाश तियर की भूमि प्रधान ने अपने कब्जे में ले रखा है। इतना ही नहीं प्रधान द्वारा उक्त मकान को गिराकर प्लाट में तब्दील कर दिया गया है। गांववासियों की सूचना पर कैलाश परिवार समेत गांव पहुंचे और प्रधान राजेंद्र दुबे से मकान गिराने की वजह पूछी। 

पीड़ित ने बताया कि बड़ौरा पैतृक गांव में प्रधान ने दोनों पक्के कमरों को गिराकर जमीन अपने कब्जे में कर लिया है। इसकी शिकायत डीएम, एसपी और मुख्यमंत्री से की गयी है। बीते बुधवार को कैलाश डीएम और एसपी कार्यालय पहुंचे और न्याय की गुहार लगायी। पुलिस कप्तान कुटियाल ने त्वरित थाना धानापुर को इसकी सूचना दी और कार्य को रोकने का आदेश दिया। 

आरोप है कि 20 अक्टूबर कोे संतोष यादव के घर के सामने की जमीन को कब्जा करने प्रधान जबरिया दरवाजा खोल दिया। संतोष ने जब इसकी शिकायत एसडीएम सकलडीहा से की तो उन्होने पैमाइश कराने के बाद कार्य प्रांरभ करने की सूचना थानाध्याक्ष धानापुर को लिखित तौर पर दी। बावजूद इसके स्थानीय पुलिस द्वारा मामले में दिलचस्पी नहीं ली गयी। ऐसे में आरोपी प्रधान का हौसला बढ़ गया। परिणामतः चारों तरफ बाउंड्री खड़ा करने में प्रधान सफल हो गया है। इससे पहले भी प्रधान के खिलाफ कई लोगों ने जोर-जबरदस्ती जैसे मामले को लेकर धानापुर पुलिस स्टेशन में शिकायत कर चुके हैं। कुछेक मामलों में अपराध भी दर्ज हुआ है मगर कोई ठोस कार्रवाई नही होने से आरोपित प्रधान का हौशला बुंलदी पर है।

जमीन कब्जा करने का आरोप निराधार

धानापुर। ग्राम प्रधान राजेंद्र दुबे ने कहा कि आरोप निराधार है। उक्त जमीन को 18 माह पहले मेरे द्वारा बैनामा कराया गया है। मकान की तोड़फोड़ मेरे द्वारा नहीं हुइ्र है, जो लोग आरोप लगा रहे हैं वे गंवई राजनीति से प्रेरित है। उधर, एसडीएम सकलडीहा प्रदीप कुमार ने बताया कि उक्त मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। ऐसी कोई जानकारी या सूचना मिलती है तो उचित कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। 



Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल