देश के 8 बीचेज को मिला ‘ब्लू फ्लैग’ का दर्जा


 

 पीयूष दुबे

नई दिल्ली। भारत ने आखिरकार इको फ्रेंडली, साफ-सुथरे और अंतरराष्ट्रीय मानकों पर आधारित पर्यटन सुविधाओं से युक्त बीचेज की सूची में जगह बना ली है। ब्लू फ्लैग बीच को दुनिया में सबसे साफ समुद्र तट माना जाता है।
बीते महीने एफईई (फाउंडेशन फॉर इन्वायरमेन्ट एजुकेशन) की एक अंतरराष्ट्रीय जूरी ने डेनमार्क के वैज्ञानिकों और पर्यावरणविदों की एक राष्ट्रीय जूरी द्वारा की गई सिफारिश को सही ठहराया है, जिसमें भारत के 8 बीचेज को ब्लू फ्लैग बीच टैग देने की सिफारिश की गई थी। इनमें से कर्नाटक के दो बीच इंटरनेशनल इको-लेबल - ब्लू फ्लैग के लिए शामिल हैं। ब्लू टैग पाने वाले बीचों में शिवराजपुर (गुजरात), घोघला (दीव), कासरकोड और पदुबिद्री (दोनों कर्नाटक में), कप्पड़ (केरल), रुशिकोंडा (आंध्र), गोल्डन (ओडिशा) और राधानगर (अंडमान) हैं। इसके साथ भारत अब दुनिया के 50 ब्लू फ्लैग देशों में शामिल है।
 सोसाइटी फॉर इंटीग्रेटेड कोस्टल मैनेजमेंट के राष्ट्रीय परियोजना निदेशक अरविंद नौटियाल ने बताया कि बीच पर्यावरण और सौंदर्य प्रबंधन सेवाओं परिवार के सदस्यों को जूरी के फैसले की खबर बताई। सिमको एक औपचारिक ब्लू फ्लैग फहराए जाने वाले समारोह की योजना बना रहा है।



Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार