‘अलादीन: नाम तो सुना होगा’ का 500 एपिसोड्स पूरा, कुछ ऐसा रहा सिद्धार्थ का रिएक्शन



डॉ. दिलीप सिंह

इंदौर। ओह माय गॉड, मुझे यह विश्वास नहीं हो रहा कि सोनी सब पर हमने अलादीन: नाम तो सुना होगा के 500 एपिसोड्स सफलतापूर्वक पूरे कर लिए हैं। मुझे अभी भी याद है जब मैंने पहली बार सेट पर एंट्री की थी तो मेरे कदम घबराहट की वजह से लड़खड़ा रहे थे। 

पहले दिन से ही सेट पर सभी कलाकार, तकनीशियन दल और पूरा जो वातावरण है, वह बिलकुल घर की तरह ही था। इससे हमें फौरन एक-दूसरे से अच्छेस संबंध बनाने में मदद मिली, जो वक्त के साथ मजबूत और ज्यादा मजबूत होता गया। आज, 500 शानदार एपिसोड्स की शूटिंग होने के बाद, हम गर्व से एक-दूसरे को टीममेट्स या क्रू से कहीं अधिक अपना परिवार बुलाते हैं। 

500 एपिसोड के साथ अलादीन नाम तो सुना होगा ने बिलकुल पहले की तरह ही आज भी अपने दर्शकों को अपनी तरफ आकर्षित करना जारी है। मैंने शो में जितने भी विभिन्न किरदार निभाएं हैं, उसके लिए लगातार सोनी सब के प्रशंसकों ने मुझे अपना प्यार और सहयोग दिया है, लेकिन इसका पूरा श्रेय जबरदस्त लेखन को जाता है। इस पूरे सफर में, मैंने अलादीन के रूप में कई भूमिकाएं निभाई हैं और मुझे लगता है कि इस तरह की भूमिका हम हमारी रोजमर्रा की जिन्दगी में भी असाधारण रूप से निभाते हैं क्योंकि यह हमें किसी भी स्थिति में ढ़लना सिखाती है और उसी के अनुसार हम व्यवहार करते हैं। 

मैं खुश हूं कि हम लगातार मनोरंजक कहानी लेकर आ रहे हैं और आश्चर्यजनक रूप से सीन्सै की परिकल्पिना कर रहे हैं। इसकी बदौलत हम प्रशंसकों से ढेर सारा प्यार पाने में कामयाब हुए हैं। मैं कहना चाहता हूं कि मेरा किरदार बहुत ही अच्छा लिखा गया है क्योंकि वह मजबूत, प्?यारा और ऊर्जा से भरा हुआ है लेकिन इसी के साथ हम उसे एक परफेक्ट पैकेज कह सकते हैं।

अगर मैं 500 एपिसोड का ये सफर मेरे लिए कैसा रहा है, इस बारे में व्यक्तिगत तौर पर कहूं तो, यह एक शानदार सफर रहा है। यह सफर उतना ही मजेदार रहा है जितना कि लद्दाख जाने के लिए बाइक का सफर होता है- जहां की एक लम्बी यात्रा आपको आखिरकार उस जगह ले जाती है जहां आपको शांति और सुकून मिलता है। इस सफर ने मुझे यह सिखाया है कि चुनौतियां चाहे कितनी भी बड़ी हों, उसका कोई न कोई समाधान अवश्य  होता है। 

इस शो के लिए 500 एपिसोड्स पूरे करने के बाद, मैंने सीखा है कि जिंदगी हमारे सामने कई चुनौतियां लेकर आएगी और अपने कठिन परिश्रम, समर्पण और सकारात्मक नजरिये के साथ, जिंदगी में सब कुछ पाना मुमकिन होता है। आखिरकार, मैं उन सभी प्रशंसकों को धन्यवाद देना चाहूंगा जिन्होंने इस शो को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया हैय हमारा लक्ष्य अपने फैंस की खुशियों को दुगुना करना है और हर एपिसोड के साथ उन्हें लगातार प्रेरित करना है।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल