वायरल वीडियो मामला: ब्लाक प्रमुख के भाई पर मुकदमे के बाद समर्थकों ने घेरा थाना, पुलिस अलर्ट

दोनों पक्ष से मुकदमा दर्ज होने के बाद गांव में दहशत




जनसंदेश न्यूज 
सादात/गाजीपुर। आजमगढ़ जनपद स्थित जहानागंज ब्लाक प्रमुख के भाई पर स्थानीय थाने में एससीएसटी का मुकदमा दर्ज हुआ है। सादात प्रमुख प्रतिनिधि पक्ष  ने शुक्रवार की देर शाम तहरीर दिया था। दरअसल, शुक्रवार को ही स्थानीय प्रमुख प्रतिनिधि सहित तीन नामजद और एक दर्जन अज्ञात लोगों पर मारपीट का  मुकदमा दर्ज हुआ था। दोनों पक्षों से मुकदमा दर्ज होने के बाद पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है। वहीं, इस घटना से आक्रोशित यादव बिरादरी के लोगों ने शनिवार को थाने पर पहुंच कर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। थानाध्यक्ष ने सभी आरोपियों पर कार्रवाई किये जाने का भरोसा देकर शांत कराया।


गौरतलब है कि, कनेरी गांव निवासी ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि कमलेश सिंह हकाडू ने तीन दिन पूर्व अचानक उनके गांव में पहुंचे जहानागंज ब्लाक प्रमुख संजय यादव के भाई बनकटा निवासी ओमकार यादव की पिटाई कर दी। इस मामले में ओमकार की तहरीर पर कमलेश सिंह हकाडू और उनके दो साथियों के अलावा 10 से 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसी बीच शुक्रवार की देर शाम कमलेश सिंह के पक्ष से कनेरी निवासी रामकृत राम पुत्र महंगी राम ने बनकटा निवासी ओमकार यादव और पिपनार निवासी पंकज यादव के खिलाफ एससीएसटी का मुकदमा दर्ज कराया है। 


आरोप लगाया कि गांव में पहुंचे ओमकार यादव और पंकज यादव ने जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने रामकृत की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया है। उधर इस मामले से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जाति पूछकर युवक को मारे जाने से आक्रोशित होकर यादव बिरादरी के लोगों ने शनिवार को रघुबंश चौराहे से बाजार होते हुए जुलूस की शक्ल में थाने पहुंचकर जान माल की रक्षा की गुहार लगाते हुए उचित कार्रवाई की मांग किया। उनका कहना था कि ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि कमलेश सिंह से उन्हें जान-माल का खतरा है। इस मामले में उचित कार्रवाई की जाय। 


थानाध्यक्ष सूर्यप्रकाश मिश्रा ने बताया कि तहरीर के आधार पर दोनों पक्षों की तरफ से मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। 


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल