सिपाही की दो बेटियों ने बढ़ाया मान, एक बनी जज तो दूसरी एसडीएम, बधाईयों का तांता



जनसंदेश न्यूज़
जौनपुर। जिले में सिपाही की दो होनहार बेटियों ने पिता के सपने को पूरा करते हुए एक बेटी जज बनी थी और अब दूसरी का भी चयन एसडीएम पद पर हुआ है। दोनों बेटियों की कामयाबी से पूरा परिवार गदगद है। इलाके के लोग उन पर फख्र कर रहे हैं। 
केराकत थाना क्षेत्र के के चकरारेत (नरहन) निवासी जयकिशोर सिंह पीएसी कांस्टेबल पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। शुरू से ही उनकी इच्छा बेटियों को अफसर बनाने की रही। सेवानिवृत्ति के बाद वह इसमें मन से जुट गए। बेटियों को बराबर प्रोत्साहित करते रहे। उनकी बेटी अंकिता सिंह पिछले वर्ष गत वर्ष न्यायिक सेवा की परीक्षा पास कर जज बन गई। इस समय उनकी तैनाती आजमगढ़ में है। वहीं दूसरी बेटी आकांक्षा सिंह ने पीसीएस-2018 की परीक्षा में 28 वीं रैंक हासिल की है। उसका चयन एसडीएम पद पर हुआ है। दोनों बेटियों की कामयाबी से हर कोई आह्लादित है। 
मां सावित्री सिंह भारतीय किसान यूनियन (सावित्री ग्रुप) की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। आकांक्षा सिंह ने स्नातक की शिक्षा आईटी कॉलेज लखनऊ से की है। उन्होंने सफलता का श्रेय माता-पिता के आशीर्वाद और मार्गदर्शन को दिया है। पिता जयकिशोर सिंह का कहना है कि बेटियों ने उनका सीना चौड़ा कर दिया है। खुशनसीब हूं कि ऐसी बेटियां मिलीं। दोनों बेटियों पर नाज है।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल