सीएम योगी नंबर 1, गांधी जयंती पर केन्द्र सरकार से मिलेगा पुरस्कार


जनसंदेश न्यूज़
नई दिल्ली। कोरोना (Corona) से उपजे संकट के बीच लगे लॉकडाउन (LockDown) में घर लौटे प्रवासी श्रमिकों को रोजगार (Employment) देने के मामले में उत्तर प्रदेश (UP) अव्वल रहा। प्रवासी श्रमिकों के लिए शुरू किये गये गरीब कल्याण रोजगार अभियान में उत्तर प्रदेश को देश में पहला स्थान मिला है। देश के 116 जिलों में चल रही इस योजना में यूपी को पहले पुरस्कार के साथ ही प्रयागराज को भी देश में अव्वल रहने पर प्रथम पुरस्कार मिला है।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को इस श्रेष्ठ कार्य के लिए केन्द्र सरकार (Central government) द्वारा सम्मानित किया जायेगा। यहीं नहीं पंचायती राज विभाग (Panchayati Raj Department) को कुल आठ पुरस्कारों के लिए चुना गया है। यह पुरस्कार 2 अक्तूबर को आयोजित समारोह में दिए जाएंगे। 


पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी (Bhupendra Singh Chaudhary) ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) लॉकडाउन के घर लौटे प्रवासियों को रोजगार प्रबंधन हेतु बीते 20 जून गरीब कल्याण रोजगार अभियान की की थी। जिसे यूपी समेत 6 राज्यों के 116 जिलों में लागू किया गया था। 125 दिन के इस अभियान में प्रवासी श्रमिकों को शौचालय निर्माण, ग्राम पंचायत भवनों के निर्माण, वित्त आयोग से होने वाले कार्य समेत कुल 25 कामों में समायोजित किया जाना था। इसमें श्रमिकों को 202 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से भुगतान क्या जाना था। 


इस इस अभियान में देश के 6 राज्यों में यूपी पहले और देश के सभी 116 जिलों में प्रयागराज पहले स्थान पर रहा है। गरीब कल्याण रोजगार अभियान में हरदोई को दूसरा और फतेहपुर को तीसरा पुरस्कार मिला है। इस अभियान में पंचायती राज विभाग ने सर्वाधिक सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराकर सबसे ज्यादा लोगों को रोजगार दिया है। 


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल