संतोषी मां के अंश के रूप में भूमिका निभाती नजर आयेंगी रतन राजपूत



जनसंदेश न्यूज़
इंदौर। एण्डटीवी के ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं’ के दर्शकों को इस शो के आने वाले एपिसोड्स में एक बहुत बड़ा ड्रामा देखने को मिलेगा। दरअसल इस शो में संतोषी मां (ग्रेसी सिंह) के अंश के रूप में रतन राजपूत यानी कि संतोषी की एंट्री होने वाली है। कहानी में परिस्थितियां काफी बदल रही हैं। इन हालातों में स्वाति (तन्वी डोगरा) को न्याय दिलाने और उसकी दुदर्शा के लिये जिम्मेदार दोषियों को सजा देने के लिये संतोषी (रतन राजपूत) धरती पर आयेगी। उनके दो रूप होंगे, एक देवी का और दूसरा इंसान का। 


इस शो की मौजूदा कहानी में इंद्रेश (आशीष कादियान) और डॉ. निधि (धरती भट्ट) की शादी की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। हालांकि, देवी पॉलोमी (सारा खान) अपनी दुष्ट चालों से इंद्रेश और डॉ. निधि को एक-दूसरे के करीब लाने में सफल रही है और अब आखिरकार उनकी शादी होने जा रही है। लेकिन, स्वाति इसका विरोध करने का फैसला करती है और उसे पूरा विश्वास है कि इस स्थिति में संतोषी मां उसकी मदद करेंगी और उसका साथ देंगी। 


संतोषी के रूप में अपनी भूमिका के बारे में बताते हुये रतन राजपूत ने कहा, दो साल बाद सेट पर लौटना मेरे लिए घर वापसी जैसा है। एक बार फिर से एण्डटीवी के ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं’ के साथ टेलीविजन पर आकर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। मैं अपने दर्शकों एवं प्रशंसकों के कारण यहां पर हूं। यह उनका प्यार और मेरे लिये लगाव ही है, जो मुझे इस शो में वापस लेकर आया है। इस शो में आगे होने वाली घटनाये एक दिलचस्प मोड़ लेगी जब संतोषी माँ अपनी परम भक्त स्वाति के साथ हो रहे अन्याय को देखकर अतियदिक क्रोधित होंगी और उस क्रोध से निकले अंश से संतोषी पैदा होगी। आगामी एपिसोड्स में संतोषी की एंट्री देखने के लिये यह शो देखते रहें।


 


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा