राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका: प्रो. निर्मला



जनसंदेश न्यूज़
जौनपुर। शिक्षक दिवस के अवसर पर वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के प्रोफेसर राजेंद्र सिंह रज्जू भैया भौतिकीय विज्ञान अध्ययन एवं शोध संस्थान के द्वारा शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया। 


कार्यक्रम की मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो निर्मला एस मौर्य ने कहा कि शिक्षक एक कुम्भार की तरह होता है जो विद्यार्थियों को एक सांचे में ढालता है। शिक्षक समाज को बनाता है तथा उन्होंने आह्वान किया कि राष्ट्र के विकास में शिक्षक अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें। शिक्षक विद्यार्थी में शैक्षणिक विकास के साथ चरित्र निमार्ण व जीवन जीने की कला का विकास भी करे। शिक्षक सूर्य के समान होता है जो अपने प्रकाश से अज्ञानता को दूर कर देता है। कुलपति जी ने शिक्षकों को बधाई देते हुए कहा कि कोरोना काल एक मंथन काल है तथा इन विपरीत परिस्थितियों में भी इस प्रकार के कार्यक्रम की सराहना की साथ ही साथ समाज में शिक्षकों की महत्ता व उनके योगदान के बारे में बताया।


स्वागत उद्बोधन रज्जू भैया संस्थान के निदेशक प्रोफेसर देवराज सिंह ने किया। उन्होंने कहा कि शिक्षक समाज की समस्याओं के समाधान के सागर के समान है। शिक्षक समाज का आईना है। विषय प्रवर्तन प्रोफेसर बी बी तिवारी ने करते हुए कहा उन्होंने कहा कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में शिक्षक दिवस का कार्यक्रम पूरे देशभर 5 सितम्बर को मनाया जाता है।  


धन्यवाद ज्ञापन डॉ राजकुमार तथा संचालन डॉ नितेश जायसवाल ने किया। इस अवसर पर प्रो. अशोक श्रीवास्तव, डॉ मनोज मिश्र, डॉ प्रमोद यादव, डॉ राकेश यादव, डॉ मनीष गुप्ता,डॉ श्याम कन्हैया, शशिकांत, डॉ धीरेंद्र अनिल कुमार मौर्य सहित अन्य शिक्षक उपस्थित रहे। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल