पंचायत चुनाव 2020: पंचायती राज मंत्री का बड़ा बयान, यूपी के 51 जिलों में इस कार्य के बाद ही होगा चुनाव

यूपी के 51 जिलों में परिसीमन के बाद ही होगा पंचायत चुनाव


कोरोना और बाढ़ की स्थितियों से निपटने के बाद ही चुनाव संभव



जनसंदेश न्यूज़
मेरठ। Panchayat Election 2020: सूबे में पंचायत चुनाव की चल रही तैयारियों के बीच यूपी के पंचायत राज मंत्री भूपेन्द्र सिंह चौधरी (Bhupendra Singh Chaudhary) ने बुधवार को बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता प्रदेश में बाढ़ (Flood) और कोरोना (Corona) से निपटने की है, जिसके बाद ही सरकार पंचायत चुनाव करायेगी। उन्होंने यह भी बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले यूपी के 51 जिलों में पहले परिसीमन कराया जायेगा, क्योंकि इन जिलों में पंचायतों से नगर निकायों का गठन हो गया है। ऐसे में परिसीमन जरूरी है। जनपद में दौरे पर आये पंचायत राज मंत्री सर्किट हाउस में पत्रकारों से वार्ता के दौरान यह बातें कहीं। 


उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि पंचायत चुनाव समय से हो, लेकिन सूबे में कोरोना और बाढ़ चुनौतियों के रूप में सामने है, ऐसी परिस्थितियों में इन चुनौतियों से निपटने के बाद ही चुनाव होगा। बताया कि यूपी में मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम शुरू हो चुका है। अब सरकार सबसे पहले मेरठ समेत 51 जिलों के पंचायत, क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायतों के वार्डो का परिसीमन कराने जा रही है। जल्द ही इस संबंध में शासन स्तर से आदेश जारी कर दिये जाएंगे। 


 


 


 


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी