नहीं मिली एम्बुलेंस, ठेलिया पर घर तक पहुंचा प्रसूता का शव


दरियाबाद, बाराबंकी। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मथुरानगर में बृहस्पतिवार की सुबह प्रसव के लिए पहुंची 24 वर्षीय जच्चा की प्रसव दौरान मौत हो गई। वही बच्चा स्वस्थ हालत में है। जच्चा की मौत के बाद साथ आये परिजनो ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया। वही एम्बुलेंस न मिलने से महिला का शव ठेलिया द्वारा घर लाया गया।


गौरतलब है कि दरियाबाद ब्लॉक क्षेत्र के तेलमा ग्राम पंचायत के मजरे सुरजवापुर निवासी देशराज शर्मा की पत्नी पूजा शर्मा (24) को प्रसव पीड़ा होने पर परिजनों ने बृहस्पतिवार को सुबह करीब 8.30 बजे 108 एम्बुलेंस से समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मथुरानगर लेकर आये । लेकिन डिलीवरी के बाद जच्चा की मौत हो गई । इस बात की खबर जब मृतका के परिजनों को हुई तो उन्होंने अस्पताल सहित नर्स प्रीति रावत पर डिलीवरी के दौरान लापरवाही का आरोप लगाया । मृतका पूजा के पति देशराज शर्मा ने अस्पताल पर आरोप लगाते हुए बताया कि डिलेवरी के दौरान बच्चा पैदा होने पर नर्स प्रीति रावत ने घोर लापरवाही बरती इसलिय मेरी पत्नी की मौत हो गई।



सिर्फ 5 प्रतिशत था महिला में हीमोग्लोबिन
वहीं मामले में सीएचसी के अधीक्षक डॉ कुमार संजय पाण्डेय सिर्फ अपना बचाव करते दिखाई दिए जिसमें एक तरफ वो मानते है कि महिला जब पहुंची तो उसकी हाफ डिलवरी हो चुकी थी जिसके बाद देखा जाए तो रेफर होने पर बचने की संभावना कम ही थी जिसके मद्देनजर सीएचसी पर कम से कम इस स्थिति से निपटने की व्यवस्था तो होनी ही चाहिए लेकिन यहां भी सरकारी अमला में जिम्मेदार ग्रामीण पर ही लापरवाही का आरोप मढ़कर अपनी जिम्मेदारी से किनारा करते दिखाई दिए। जिसमें सीएचसी अधीक्षक ने बताया कि हाफ डिलीवरी हो चुकी हालत में पहुची महिला को डिलीवरी के लिए भर्ती करने दौरान जांच में हीमोग्लोबिन मात्र 5 प्रतिशत रिपोर्ट में तस्दीक हुआ। वहीं पूर्ण प्रसव के बाद महिला की हालत और गंभीर हो गई और प्रसूता के पति को जिला अस्पताल रेफर करने की बात कही गई मगर तब तक महिला की मौत हो चुकी थी।
वहीं ठेलिया पर शव ले जाने की बात पर अधीक्षक ने कहा अस्पताल में लगी एम्बुलेंस कोविड 19 सेवा  में लगी है । परिजनों ने एम्बुलेंस के लिए कॉल किया उसके बाद बिना इंतजार किया महिला को ठेलिया पर लेकर चले गए। अधीक्षक ने आश्वासन देते हुए कहा कि जांच करवाई जाएगी फिर भी अगर कोई कर्मचारी दोषी होगा उसके ऊपर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


 

Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल