मीरजापुर में दो दिन पूर्व लापता युवक का शव मिलने से हड़कंप, हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका



जनसंदेश न्यूज
जिगना/मीरजापुर। लालगंज थाना क्षेत्र के कुशियरा फाल के पास युवक का शव बरामद होने से सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर पहले पहुंचे विंध्याचल थाना प्रभारी की सूचना पर लालगंज पुलिस ने शव को कब्जे मे लिया। परिजनों ने बताया कि 23 सितंबर को रोहनिया वाराणसी थाने मे गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। 


जानकारी के अनुसार रोहनिया थाना क्षेत्र के दरेखू गांव निवासी परविन्द कुमार सिंह 28 पुत्र सर्व ऋषि नारायण सिंह भाड़े पर मालिक की कार चलाता था। पड़ोसी गांव गंगापुर के ओमप्रकाश पाल के कहने पर कार मालिक के इसी थाना क्षेत्र के घमहापुर निवासी जितेंद्र सिंह ने उसे चार अज्ञात लोगों के साथ विंध्याचल धाम में दर्शन पूजन कराने के लिए भेजा था। मृतक के छोटे भाई अरविंद सिंह ने बताया कि कार मे लगे जीपीएस सिस्टम से पता कर वे लोग यहां तक पहुंच गए। 


शुक्रवार की दोपहर में काफी देर तक झाड़ी मे खोजबीन के बाद शव बरामद हो गया। मृतक शादीशुदा था। वह तीन भाइयों मे दूसरे दिन नंबर पर था। उसने बताया कि कार बुक करने वालों ने ही उसके भाई को मौत के घाट उतार दिया। वहीं दर्शन के लिए बुक की गई कार रोहनिया थाना क्षेत्र के चक्का गांव मे 23 की रात्रि मे ही सड़क के किनारे लावारिस हालत मे मिली। कार चालक की हत्या क्यों और किन परिस्थितियों मे हुई इसे लेकर परिजन कुछ भी नहीं बता पा रहे थे। 


साथ ही मौके पर मौजूद मृतक युवक के गांव वाले जितनी मुंह उतनी बातें कर रहे थे। कोई कार लूट तो कोई आशनाई का चक्कर बता रहा था। बताया गया कि मालिक ने मोबाइल से जीपीएस सिस्टम लाक कर दिया था। नहीं तो दर्शन के बहाने बुक कराने वाले कार लूट ले जाते। शव बरामदगी स्थल को लेकर कुछ देर तक बिंध्याचल व लालगंज थाने की पुलिस माथापच्ची करती रही। वहीं शव मिलने के बाद परिजनों में कोहराम मच गया।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल