लोक निर्माण विभाग में भ्रष्टाचार की खुली पोल, नलकूप की नाली पर सड़क निर्माण कार्य रोकने का आदेश

डीएम ने एक सप्ताह के अंदर गिट्टी हटाने का दिया आदेश 




जनसंदेश न्यूज 
कठवामोड़/गाजीपुर। लोक निर्माण विभाग में अधिकारियों द्वारा सड़क निर्माण में बडे़ भ्रष्टाचार के खेल करने का मामला सामने आया है। विभाग के अधिकारियों ने नलकूप के नाली पर ही सड़क निर्माण करा दिया है। नलकूप अधिशासी अभियंता ने इस मामले को लेकर लोक निर्माण विभाग एवं जिलाधिकारी से शिकायत किया। जिसके बाद डीएम एमपी सिंह ने एक सप्ताह में नलकूप की नाली से गिट्टी हटाने का आदेश दिया है।   


लोक निर्माण विभाग खण्ड-3 के कठवामोड़-नोनहरा मार्ग से भागलपुर सम्पर्क मार्ग तथा यूसुफपुर मार्ग से पावरहाउस होते हुए कमालपुर संपंर्क मार्ग निर्माण कार्य में  विभाग द्वारा बड़ा भ्रष्टाचार किया गया है। व्यापार विकास निधि के अंतर्गत स्वीकृत मार्गो में काफी अनियमितता की बात सामने आई है। इस निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए पूर्व जिला पंचायत सदस्य अनुराग सिंह ने विभाग के अधिकारियों सहित जिलाधिकारी से शिकायत किया था। जिसे जनसंदेश टाइम्स ने प्रमुखता से प्रकाशित कर अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया। इसके बाद अधिकारियों के नजर में आने के बाद लोक निर्माण विभाग कें संबंधित अधिकारी  किसी जांच से बचने के लिए नलकूप के नाली पर सड़क निर्माण शुरू करा दिए। इस निर्माण का नलकूप के आपरेटर ने विरोध कर इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दिया।


अवैध तरीके से नाली पर सड़क निर्माण हो बंद रू अधिशासी अभियंता


अधिशासी अभियंता नलकूप खण्ड प्रथम दिलीप कुमार सोनकर ने लोक निर्माण  विभाग के अधिशासी अभियंता तृतीय को पत्र जारी कर कार्य रोकने को कहा। उन्होंने इसकी सूचना जिलाधिकारी सहित मुख्य विकास अधिकारी और पुलिस अधीक्षक को दिया। पत्र के माध्यम से बताया कि राजकीय नलकूप संख्या 02 वाईजी ग्राम लखमीपुर विकास खण्ड मुहम्मदाबाद वर्तमान में सुधारात्मक नलकुपो की सूची में सम्मिलित है। जिस पर सुधारात्मक कार्यवाही के पश्चात भविष्य में यह नलकूप चलित नलकुपो की सूची में सम्मिलित हो जाएगा। बताया कि किसानों के हित को देखते हुए उक्त राजकीय नलकूप संख्या 2 वाईजी की नाली पर रोड का निर्माण कराया जाना औचित्य पूर्ण नही है।  


भविष्य में कृषकों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराया जाना संभव नही है। अधिशासी अभियंता ने लोक निर्माण विभाग -3 के अधिशासी अभियंता से पत्र के जरिए कहा कि राजकीय नलकूप संख्या 2 वाईजी की नाली पर अवैध तरीके से आप द्वारा निर्मित कराए जा रहे  सड़क निर्माण को अविलंब बंद कराने का कार्य करें।  लगभग 200 मीटर नाली पर पाटी गयी गीट्टी को हटा कर नाली को साफ कराना सुनिश्चित करे। ताकि भविष्य में स्थानीय किसानों को नलकूप द्वारा सिचांई सुविधा उपलब्ध कराते हुए किसानांे को लाभान्वित किया जाना संभव हो सके।


इस संबंध में अधिशासी अभियंता नलकूप दिलीप कुमार सोनकर ने बताया कि नलकूप की नाली पर हो रहे सड़क निर्माण कार्य बंद कर एक सप्ताह में वहां से  गिट्टी हटाने का जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग को आदेश दिया है।


वहीं लोक निर्माण विभाग-3 अवर अभियंता रवि कुमार मौर्या ने कहा कि नलकूप खण्ड प्रथम के अधिकारी का पत्र प्राप्त हो गया है। नाली पर कोई निर्माण कार्य नही कराई जाएगी। यदि कही नाली पर गिट्टी गिरी होगी तो उसे हटा दिया जाएगा और नाली पर कोई अतिक्रमण नही किया जाएगा।


सीडीओ की जांच में मिली थी अनियमितता


लोक निर्माण विभाग-3 के कार्यों की शिकायत के पहुंचे सीडीओ ने सड़क की गुणवत्ता के साथ ही कार्ययोजना के बारे में भी जानकारी ली। सीडीओ श्रीप्रकाश गुप्ता के निरीक्षण में सड़क की चौड़ाई मानक के अनुरूप नहीं मिली थी। विभागीय अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि नलकूप के नाली पर सड़क निर्माण किस आदेश के तहत कराए गए। इसके साथ ही 2017 की भुगतान धनराशि का अब तक क्यों नहीं कार्य हुआ था। निरीक्षण में व्यापार विकास निधि के तहत कार्ययोजना में दिखाए गए यूसुफपुर-कासिमाबाद पावर हाउस से कमालपुर संपर्क मार्ग में कमालपुर को जोड़ने वाली 400 मीटर संपर्क मार्ग न बनाकर किसी दूसरे जगह सड़क निर्माण कराए जाने में धांधली की बात सामने आई।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल