कुछ ही माह में मूर्त रूप लेंगी हजारों करोड़ की परियोजनाएं: योगी, बनारस समेत मंडल की योजनाओं का गहन समीक्षा

- मुख्यमंत्री ने की बनारस समेत मंडल में निर्माणाधीन विकास परियोजनाओं गहन समीक्षा


- बोले: केंद्र और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से व्यापक स्तर पर किये जा रहे हैं कार्य



सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। जनपद में केंद्र और राज्य सरकार की हजारों करोड़ रुपये की लागत से निर्माणाधीन विभिन्न परियोजनाओं से अधिकांश कुछ ही माह में बनकर तैयार हो जाएंगी। इस परियोजनाओं की टाइम लाइन निर्धारित हो चुकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विशेष रूचि और संदेश के चलते उनके संसदीय क्षेत्र में केंद्र व राज्य सरकार संयुक्त रूप से व्यापक स्तर पर इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास हुआ है। वहीं, वाराणसी मंडल के अन्य जिलों में चल रहे प्रोजेक्ट भी बेहतर ढंग से मूर्त रूप लेंगे। वाराणसी सहित संपूर्ण यूपी में बीते साढ़े तीन साल में रिकॉर्ड विकास एवं सामाजिक सहायता के कार्य हुए हैं।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार की शाम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये वाराणसी मंडल में चल रहे विकास कार्यों की विस्तार से समीक्षा बैठक करते हुए यह कहा। तीन घंटे से अधिक समय तक चली इस मीटिंग में उन्होंने वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, चंदौली में हुए विकास कार्यों की गहनता से समीक्षा की। उन्होंने वर्तमान में निर्माणाधीन परियोजनाओं को तय टाइम लाइन में पूर्ण करने पर बल दिया।


उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों के कारण ही वाराणसी जनपद पूर्वी उत्तर प्रदेश और यहां से जुड़े अन्य राज्यों के लिए स्वास्थ्य, कनेक्टिविटी, कृषि एवं हैंडलूम उत्पाद व पर्यटन के क्षेत्र में हब बन रहा है। यह नगर विश्व के नक्शे पर पर्यटकों को प्रमुखता से आकर्षित करता है। श्री काशी विश्वनाथ धाम निर्माण परियोजना बनारस की पौराणिकता, धार्मिकता और आध्यात्मिकता को संजोए हुए आधुनिकता एवं नवीनता का अनुपम, भव्य, सुविधायुक्त धाम होगा।


सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का मां गंगा और बाबा विश्वनाथ के प्रति अगाध विश्वास एवं आस्था से उनकी मंशा के अनुरूप बन ररहा यह धाम दुनियाभर में सभी भारतवंशियों समेत विदेशियों के आकर्षण का केंद्र बनेगा। पर्यटन की दृष्टि से भी यह आकर्षक, मनमोहक व सजीवटता होगी। बैठक में एमएलसी डॉ. लक्ष्मण आचार्य, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, डॉ. अवधेश सिंह, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, डीएम कौशल राज शर्मा आदि भी थे।


28 प्रोजेक्ट की टाइम लाइन
इस साल वाराणसी मंडल में 50 करोड़ से अधिक लागत की कुल 28 परियोजनाएं चल रही हैं। उनमें से वाराणसी में 24, चंदौली व गाजीपुर में एक-एक, जौनपुर में दो प्रोजेक्ट हैं। इनकी कुल लागत 8409.33 करोड़ रुपये है। इस परियोजनाओं में से 11 आगामी दिसंबर तक, पांच प्रोजेक्ट अगले मार्च तक, एक दर्जन परियोजनाएं दिसंबर 2021 तक पूर्ण करने का लक्ष्य है। वहीं, कंवेंशन सेंटर रुद्राक्ष का निर्माण आगामी दिसंबर तक पूरा हो जाएगा।


यह हैं कुछ कार्य
वाराणसी जिले में 50 करोड़ से अधिक लागत वाले सड़क-पुल की संचालित आठ परियोजनाओं में लहरतारा-फुलवरिया मार्ग पर दो आरओवी, वरुणा पर एक पुल और फोरलेन रोड का कार्य 21 फीसदी हो चुका है। पंचकोशी परिक्रमा मार्ग चितईपुर-जंसा-रामेश्वर-कपिलधारा निर्माण कार्य 90 प्रतिशत, रिंग रोड फेज-2 और वाराणसी-गाजीपुर के फोरलेन रोड चौड़ीकरण कार्य दिसंबर तक पूर्ण होंगे। श्री काशी विश्वनाथ धाम का कार्य आगामी तक पूर्ण होगा। दूसरी ओर, स्मार्ट सिटी के तहत शहर के 720 स्थानों पर एडवांस सर्विलांस कैमरा स्थापना के कार्य आगामी दिसंबर माह तक पूर्ण हो जाएगा। रमना और रामनगर एसटीपी व इसके इंटरसेप्टर कार्य भी इसी अवधि में पूरे होंगे।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल