किशोरी के खाते में अचानक आये 10 करोड़, उड़े होश, सहमे परिजनों ने की जांच की मांग


जनसंदेश न्यूज़
बांसडीह/बलिया। क्षेत्र के रूकूनपुरा गांव की एक किशोरी के बैंक खाते में लगभग दस करोड़ रुपया आने से परिजनो में दहशत व्याप्त है। किशोरी अपनी मां के साथ बैंक पंहुची तो बैंक कर्मचारियों से रूपया आने की पुष्टि हुई। उसने कोतवाली में तहरीर देकर मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग किया है। 


रूकूनपुरा गांव की सूबेदार साहनी की पुत्री सरोज का एक इलाहाबाद बैंक बांसडीह की शाखा में खाता हैं। वह अपने बैंक खाते में रकम की जांच करायी तो कर्मचारियों ने बताया कि खाते में नौ करोड़ 99 लाख चार हजार सात सौ छतीस रूपया हैं। इसके बाद कर्मचारियों ने बताया कि खाते के लेन-देन पर रोक लगा दिया गया हैं। लगभग दस करोड़ रुपया की बात सुनते ही किशोरी के होश उड़ गये। 


पुलिस को दी गयी तहरीर में सरोज ने बताया कि वर्ष 2018 से ही खाता चल रहा हैं। दो वर्ष पूर्व ही कानपुर देहात जनपद के ग्राम पाकरा, पोस्ट बाधीर के निलेश कुमार नाम के व्यक्ति ने सरोज को फोन कर पीएम आवास दिलाने के नाम पर आधार कार्ड व फोटो आदि मांगा। सरोज ने आधार की फोटो काफी व अन्य कागजात उसके पते पर भेज दिया। बाद में सरोज के नाम से डाक द्वारा एटीएम आया। उसे भी कानपुर के निलेश ने मांगा तो सरोज ने पते पर डाकघर से रजिस्टर्ड भेज दिया एवं सरोज ने पिन कोड भी बता दिया। बैंक के खाते से कई बार रूपये का लेन-देन किया गया हैं। 


सरोज ने बताया कि उसे कुछ मालूम नहीं हैं कि रूपया कहां से आया हैं। मुझे रुपया से कोई मतलब भी नहीं हैं। सरोज ने बताया कि निलेश कुमार के जिस मोबाइल नम्बर से बातचीत हो रहा था, वह अब बंद बता रहा हैं। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल