खाद की किल्लत पर किसानों का सब्र टूटा तो समझाने पहुंचे साधन सहकारी समिति अध्यक्ष को मुख्यद्वार से बांधा

कोऑपरेटिव समिति के मुख्य द्वार से दिया बांध 


धरना-प्रदर्शन के साथ जमकर हुई नारेबाजी 

जनसंदेश न्यूज 
बहरियाबाद/गाजीपुर। यूरिया खाद की किल्लत को लेकर आक्रोशित किसानों ने नवीन चौहान के नेतृत्व में कोऑपरेटिव परिसर में धरना-प्रदर्शन के साथ ही नारेबाजी शुरू कर दिए। सूचना पर पहुंचे साधन सहकारी समिति के अध्यक्ष राकेश सिंह को बंधक बना लिया और कोऑपरेटिव समिति के मुख्य द्वार से बांध दिया। इसके साथ ही इसकी सूचना सचिव, ए आर निबंधन, ए डी सी, नायब तहसीलदार, एस डी एम व जिलाधिकारी को दिया। 


क्षेत्र के किसानों के अनुसार महीनों इंतजार  के बाद एक सप्ताह पूर्व 28 अगस्त को स्थानीय को-आपरेटिव पर आई यूरिया व डाई खाद गुरुवार को भी नहीं बांटा गया। कर्मचारियों द्वारा खाद वितरित करने को लेकर लगातार हीला-हवाली की जा रही है। इस मामले को लेकर आक्रोशित किसानों ने नवीन चौहान के नेतृत्व में कोऑपरेटिव परिसर में ही नारेबाजी शुरू कर दी तथा वहीं धरना-प्रदर्शन करने लगे। 


सूचना पर पहुंचे अध्यक्ष राकेश सिंह को बंधक बनाकर बांध दिया। इसके बाद संबंधित अधिकारियों को सूचना देने के बाद किसी सक्षम अधिकारी को बुलाए जाने पर की मांग करने लगे। किसानों का कहना था कि खाद के अभाव में धान की खेती प्रभावित हो रही है। कई महीनों से कोऑपरेटिव पर खाद का स्टाक नहीं था। काफी जद्दोजहद के बाद लगभग एक सप्ताह पूर्व खाद तो आ गया किन्तु कर्मचारी खाद को वितरित करने में हीला-हवाली कर रहे हैं। किसी-न-किसी बहाने किसानों को टाल दिया जा रहा है जबकि खाद के अभाव में हमारी फसलें बर्बाद हो रही हैं। 


बंधक बनाए गए को-आपरेटिव अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि पिछली बार तीन दिसम्बर को खाद आइ थी और स्टाक समाप्त होने के बाद किसान खाद से वंचित थे। महीने बाद एक सप्ताह पूर्व खाद आई और मैंने कई बार कर्मचारियों से खाद वितरण के लिए कहा किन्तु वे हमारी बातों को अनसुनी कर दे रहे हैं। दोपहर 1.30 पर स्थानीय थाने से राणा यादव व संदीप कुमार यादव मौके पर पहुंचे। किसानों की एडीसीओ सतीश दूबे से मोबाइल से वार्ता कराई। एडीसीओ ने आश्वासन दिया कि सचिव व स्थानीय पुलिस की मौजूदगी में शुक्रवार से खाद वितरण कराया जाएगा। इस आश्वासन पर धरना समाप्त कराया जा सका।


धरना-प्रदर्शन में शामिल किसानों में प्रमुख रूप से नवीन चौहान, यमुना सिंह, सुभाष यादव, विनोद सिंह, लालबहादुर यादव, कल्पनाथ यादव, संजय सिंह, सुब्बा यादव, रमेश चौहान श्रीकांत सिंह, रामजन्म यादव, उदय प्रताप चौहान आदि लोग शामिल रहे।


 


 


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी