कपड़ा व्यवसायी के मामले में फरार चल रही 25 हजार की ईनामियां महिला गिरफ्तार



जनसंदेश न्यूज 
सैदपुर/गाजीपुर। क्राइम ब्रांच व स्थानीय पुलिस ने एक साल से अधिक समय से फरार चल रही 25 हजार की इनामी हत्यारोपी महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। नगर के वार्ड 6 पक्का घाट निवासिनी अर्चना सोनकर पुत्री मिठाई लाल सोनकर नगर के प्रमुख कपड़ा व्यवसायी सुशील गुप्ता के हत्या में वांछित थी। उसमें शामिल उसके सगे भाई समेत बाकी 3 गिरफ्तार हो चुके थे। लेकिन अर्चना एक साल से अधिक समय से फरार चल रही थी। 


सकी तलाश में क्राइम ब्रांच प्रभारी श्यामजी यादव तब से जुटे थे, जब से वो सैदपुर में कोतवाल थे। इस बीच उनको व सैदपुर थाने की पुलिस को सूचना मिली कि फरार हत्यारोपी अर्चना औड़िहार तिराहे से कहीं फरार होने की जुगत में है। जिसके बाद संयुक्त टीम ने छापेमारी करके उसे गिरफ्तार करते हुए जेल भेज दिया। 13 माह से अधिक समय से फरार अर्चना पर 25 हजार का ईनाम भी रखा गया था। गौरतलब है कि बीते वर्ष 2 अगस्त को नगर के यूनियन बैंक के ऊपर रहने वाले कपड़ा व्यवसायी सुशील गुप्ता की तब गोली मारकर हत्या कर दी गई, थी जब वो परिवार संग घर में सो रहे थे। 



घर में चोरी की नियत से घुसे अर्चना के भाई रामबाबू सोनकर, राजू निषाद व राजीव नगर निवासी सचिन द्वारा चोरी के दौरान सुशील की नींद खुल गई तो वो बदमाशों से भिड़ गए। जिसके बाद उन्होंने उन्हें गोली मार दी थी। उस घटना के बाद पूरे जिले में हड़कंप मच गया था तो पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए 8 अगस्त को ही रामबाबू व राजू निषाद को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं उक्त घटना में घर के बाहर मौजूद रहकर कार्रवाई करने व आने जाने वालों की लोकेशन देने वाली अर्चना तभी से फरार चल रही थी। 


कई बार उसकी लोकेशन मिलने के बावजूद वो पुलिस को चकमा देकर निकलने में सफल हो गई थी। जिसके बाद उसके सिर पर 25 हजार का इनाम रखा गया था। इस बीच पुलिस ने शुक्रवार को उसे आखिरकार गिरफ्तार कर ही लिया। इस दौरान टीम में एसओजी प्रभारी निरीक्षक श्यामजी यादव, एसआई विनीत राय, कां. संजय कुमार, भाईलाल ,सैदपुर के प्रभारी व एसएसआई घनानंद त्रिपाठी, कां. राकेश कुमार, आयुष कुमार, काजल पटेल व सपना रहीं।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल