जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्क हुई 16 करोड़ की सम्पत्ति



अवैध तरीके से संपत्ति अर्जित करने का है आरोप


जिला पंचायत अध्यक्ष ने जिला प्रशासन पर सत्ता पक्ष के दबाव में काम करने का लगाया आरोप 


देवरिया- जिला पंचायत अध्यक्ष रामप्रवेश यादव की 16 करोड़ की सम्पत्ति शुक्रवार को जिलाधिकारी के आदेश के बाद कुर्क हो गयी। इस दौरान रजला गांव में भारी मात्रा में पुलिस बल लगाये गये थे, आज इस गांव को देखने पर यह प्रतीत हो रहा था कि कोई पुलिस छावनी तो नही बन गयी है। भारी मात्रा में पुलिस फोर्स लगने के कारण कही से भी किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना होने की सूचना नही मिली। 


बताते चले कि रामप्रवेश यादव पर अवैध तरीके से संपत्ति अर्जित करने का आरोप है। जिलाधिकारी ने उनके पैतृक गांव समेत कई जगहों पर लगभग 16 करोड़ से अधिक की संपत्ति कुर्क करने का आदेश गुरूवार को जारी किया। जिलाधिकारी के आदेश मिलते ही एसपी डॉ श्रीपति मिश्र के निर्देश पर अपर पुलिस अधीक्षक  सीओ सिटी ने तनिक भी देरी न करते हुए अगले ही दिन शाम को इनकी सम्पत्ति को कुर्क ली। जिलाधिकारी के आदेश से जिन सम्पत्तियों को कुर्क किया गया उसमें दर्जन से अधिक प्लाट, ईंट भट्ठा, मकान, अंडा फार्म के साथ ही उनकी लग्जरी करीब आधा दर्जन गाडियां आदि शामिल है। 


इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष ने जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिला प्रशासन पूरी तरह से सत्ता पक्ष के दबाव में काम कर रहा है। यह सम्पत्ति मेरी पूर्वजीय सम्पत्ति थी और मैने इसके बारे में बताया भी था और पोर्टल पर भी डाला था लेकिन जिला प्रशासन ने मेरी एक भी नही सुना और सत्ता पक्ष के दबाव में मेरी सारी सम्पत्ति को कुर्क कर लिया। 
उन्होंने कहा कि मै पिछले दो सालो से जीता हुआ जिला पंचायत का अध्यक्ष हूं लेकिन मुझे सत्ता पक्ष के दबाव में कार्यभार ग्रहण करने नही दिया जा रहा है जिससे यह साफ जाहिर हो रहा है कि सत्ता पक्ष के दबाव में मुझे परेशान किया जा रहा है।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल