जंगल में बकरी चराने गये दो किशोर भिड़े, घायल किशोर ने वाराणसी हॉस्पिटल में तोड़ा दम


जनसंदेश न्यूज़
ड्रमण्डगंज/मीरजापुर। हलिया थाना क्षेत्र के कुशियरा गांव में तीन सप्ताह पूर्व बकरियां चराने गए दो किशोरों के आपसी झगड़े में गंभीर रूप से चोटिल एक किशोर की इलाज के दौरान सोमवार की देर रात वाराणसी स्थित एक अस्पताल में मौत हो गई। किशोर की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं परिजनों की सूचना पर पुलिस गांव में पहुंचकर अग्रिम कार्रवाई में जुट गई। 


बताया जाता है कि थाना क्षेत्र के कुशियरा गांव निवासी राजेश कहार का बेटा सत्यदेव व भोला कोल का बेटा गोलू सितंबर माह के प्रथम सप्ताह में बकरी चराने के लिए जंगल की तरफ गये थे। जहां दोनों किशोरों में किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। जिसमें गोलू ने सत्यदेव कहार के गले को दबा दिया था। जिससे गंभीर रूप से चोटिल सत्यदेव की एक सप्ताह बाद हालत गंभीर हो गई। तब परिजन उपचार के लिए वाराणसी स्थित एक अस्पताल में लेकर गये। जहां पर उपचार के दौरान किशोर सत्यदेव की मौत हो गई। किशोर के परिजनों में मौत की सूचना मिलने पर कोहराम मच गया। मामले की जानकारी पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर घटना की छानबीन में लग गए।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

कुशवाहा कांतःअनुभूतियों में हमेशा जिंदा रहेंगे कालजयी साहित्य के अमर शिल्पी