एक ही परिवार में सर्पदंश से तीसरी मौत, पिता के पहले बेटी और बेटे को भी सांप ने काटा

परिवार सर्पदंश तीन मौत के बाद गांव में हो रही तरह-तरह की चर्चाएं




जनसंदेश न्यूज़
बाराचवर/गाजीपुर।  क्षेत्र अंतर्गत गंधपा ग्रामसभा में सर्पदंश से एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई। घटना की जानकारी होते ही गांव मर कोहराम मच गया। एक साल पहले मृतक की बेटी और एक साल के मासूम की भी सर्पदंश से मौत हुई थी। एक ही परिवार में तीन लोगों की सर्पदंश से मौत के बाद गांव में लोग तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे है।


ग्रामीणों के अनुसार मुन्ना बिन्द (45) पुत्र धीरज बिन्द रविवार दोपहर में खेत घूमने गये थे। जब घर आये तो कहने लगे कि बहुत तेज गर्मी हो रही है। जिसके बाद सब कपड़े निकालने लगे। तभी कुछ देर में मुंह से झाग निकलने लगा तो परिजनों ने आनन-फानन में अमवा सिंह की सती माई के यहां ले गये। सर्पदंश की आशंका थी, लेकिन मृतक ने सांप को देखा नहीं था। लोगों ने बताया कि वह सांप को इसलिए नहीं देख पाए क्योंकि धान की फसल बड़ी थी। जब सती माई के स्थान से राहत नहीं मिली तो करीब 2 बजे जिला चिकित्सालय ले गये वहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। 


मुन्ना की पत्नी का पहले ही निधन हो चुका है। उसके तीन लड़के हैं। सबसे छोटा सरवन 17 साल का हैं। इसके अलावा माझिल चन्दन है और सबसे बड़ा लड़का योगेन्द्र है। योगेन्द्र की शादी हो चुकी हैं और उसका एक 2 साल का बच्चा भी है।
गौरतलब है कि दो साल पहले रक्षाबंधन के दिन गंधपा में ही मुन्ना राजभर की बेटी सुनीता का भी सर्पदंश से मौत हो गयी थी। जिसके बाद अगली सुबह उसके एक वर्षीय बालक को भी सर्प ने काट लिया जिससे उसकी भी मौत हो गयी थी।  परिवार में सर्पदंश से तीसरी मौत से ग्रामीणों में अचरज माहौल है।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार