दुर्दशा का शिकार, पंचकोशी यात्रा मार्ग, धर्मशालाओं पर कब्जा, तीर्थयात्री बाहर, कब्जेदार भीतर, विधायक ने देखी हकीकत

भीमचंडी पड़ाव स्थल के अधिकांश धर्मशालाओं में मवेशी बांध रहे हैं क्षेत्रीय पशुपालक


किसी कमरे में जड़ा है ताला, कहीं भूसा और कबाड़ का ढेर, कहीं चारा काटने की मशीन



सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। शासन की प्राथमिकताओं में शामिल काशी के पंकोशी यात्रा मार्ग के भीमचंडी क्षेत्र के अधिकांश धर्मशालाओं पर अवैध कब्जा है। मौके पर कहीं चारा काटने की मशीन रखी है तो कहीं भूसे का ढेर और कबाड़ की भरमार। इलाके के कुछ लोगों ने धर्मशालाओं को गौशाला के रूप में प्रयोग करते हुए भीतर अपने-अपने मवेशियों को बांध रखा है। कई कमरों पर ताले जड़े हैं। गंदगी के भरी इन धर्मशालाओं का हाल यह कि यहां पहुंचने वाले तीर्थयात्री धर्मशालाओं के बाहर पेड़ के नीचे भोजन बनाने के लिए बाध्य हैं।



विधायक सौरभ श्रीवास्तव बुधवार को जब पंचकोशी यात्रा मार्ग का जायजा लेने निकले तो उन्हें यह स्थिति दिखी। इस पर श्री ने तत्काल जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को तत्काल वस्तुस्थिति की जानकारी देते हुए भीमचंडी स्थित धर्मशालाओं ने अवैध कब्जे खाली कराने और पेयजल व्यवस्था दुरुस्त कराने को कहा। निरीक्षण के आरंभ में सौरभ अस्सी घाट से नगवा, लंका, नरिया, करौंदी, आदित्य नगर, चितईपुर होकर विभिन्न मार्गों पर स्थित मंदिर और धर्मशालाओं का हाल जाना।



कंदवा में टूटी हुई पेयजल पाइप और धर्मशाला में साफ-सफाई करेने के निर्देश दिये। मां अष्टभुजा मंदिर में वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता अनिल सिंह के आग्रह पर विधायक ने मंदिर पर एक हैंडपंप और शौचालय बनवाने का आश्वासन दिया। काशीपुर ग्रामीणों ने गांव स्थित मां दुर्गा मंदिर परिसर की चहारदीवारी और इंटरलॉकिंग फर्श की मांग की। राजातालाब क्षेत्र में पंचकोशी मार्ग निर्माण कार्य चल रहा था। रामेश्वर में मंदिर प्रांगण व पीछे स्थित घाट की समस्याओं का समाधान जल्द कराने का भरोसा दिया।



हरहुआ स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर पर धर्मशाला निर्माण के लिए श्री श्रीवास्तव ने ग्राम प्रधान से प्रस्ताव मांगा। निरीक्षण के दौरान विधायक के साथ श्रीकृष्ण कुमार मिश्रा ‘कल्लू मिश्रा’, महानगर उपाध्यक्ष अभिषेक मिश्रा, मंडल महामंत्री अवधेश उपाध्याय, अमित सिंह ‘चिंटू’, सच्चन केसरी, मधुप राय, प्रेम शंकर पाठक तथा रामनारायण सिंह आदि रहे।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल