दुल्हन की तरह सजा सेवापुरी ब्लॉक मुख्यालय, नीति आयोग समेत केंद्र-राज्य सरकार के अफसर कल करेंगे बैठक

- डीएम ने मौका-मुआयना कर दिये निर्देश, देखी अबतक की कवायद


- निरीक्षण की संभावना देख अफसरों ने तैयार की दस गांवों की लिस्ट


- विकास खंड मुख्यालय पर प्रस्तावित है चार घंटे से अधिक की मीटिंग


- रविवार को देर शाम तक ब्लॉक के चिह्नित गांवों में जमे रहे अधिकारी



सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। सेवापुरी विकास खंड मुख्यालय को दुल्हन की तरह सजाया गया है। इस परिसर के विभिन्न कक्षों की सूरत बदल चुकी है। फर्नीचर हों का कमरे, सभागार हो या भवन के बाहर का खुला प्रांगण, विभिन्न गांवों से जो भी यहां पहुंच रहा, उसके चेहरे से सुखद आश्चर्य दिख रहा है। यह आमूल-चूल बदलाव इसलिए किया गया है क्योंकि 15 सितंबर को नीति आयोग की टीम समेत केंद्र व राज्य सरकार में विभिन्न विभागों के आला अफसर मॉडल ब्लॉक के तौर पर विकसित किये जा रहे इस विकास खंड का दौरा करने वाले हैं। डीएम कौशल राज शर्मा ने रविवार को मौका-मुआयना कर तैयारियों का जायजा लिया।



आगामी मंगलवार को दिल्ली और लखनऊ से पहुंच रहे अधिकारी सेवापुरी विकास खंड मुख्यालय सभागार में विभिन्न विभागों के अफसरों और ब्लॉक में सेक्टरवार तैनात नोडल अफसरों के साथ मीटिंग करेंगे। इसके लिए पावर प्वॉइंट प्रेजेंटेशन की तैयारी कर ली गयी है। उस मीटिंग में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत के अलावा ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव समेत मुख्यलयों से कई महकमों अधिकारी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। इसके लिए अबतक की गयी तैयारियों को मानें तो ब्लॉक मुख्यालय सभागार में 15 को दिन में 11.45 बजे बैठक की शुरुआत डीएम कौशल राज शर्मा करेंगे।



मीटिंग के केंद्र बिंदुओं में विशेषकर उन मुद्दों पर चर्चा होगी जिन कार्यों को अमली जामा पहनाने के दौरान उत्पन्न चुनौती या समस्या आ रही है। उसी दौरान लगभग 13 विभागों के केंद्रीय अधिकारियों और विकास खंड में तैनात नोडल अफसर संक्षेप में संयुक्त प्रस्तुतिकरण देंगे। उनमें पेयजल एवं स्वच्छता, आईसीडीएस, श्रम एवं रोजगार, ग्रामीण विकास, विद्युत, एमएसएमई, कृषि एवं किसान कल्याण, शिक्षा, पश्ुपालन, पेंशन व लोन, मत्स्य पालन, संचार आदि बिंदुओं पर सेवापुरी ब्लॉक में कराये जा रहे अथवा कराए जाने वाले कार्यों की प्रगति पर चर्चा होगी।



नीति आयोग की टीम संग वाराणसी आ रहे कई महकमों के अफसरों को विकास खंड क्षेत्र का निरीक्षण कराने के लिए करीब दस गांव सूचिबद्ध किये गये हैं। हालांकि उस दिन इन अधिकारियों की फ्लाइट के आगमन के समय पर ही निर्भर करेगा कि उनके पास गांवों का मुआयना करने का वक्त रहेगा अथवा नहीं। क्योंकि दिन में प्रस्तावित बैठक शाम करीब 4.30 बजे तक चलेगी। उसके बाद केंद्र व राज्य सरकार के अधिकारी सीधे एयरपोर्ट रवाना हो जाएंगे।


जिन दस गांवों की लिस्ट बनायी गयी है, वहां रविवार को देर शाम तक संबंधित नोडल अफसर जमे रहे। वह उन गांवों की आधारभूत संरचनाओं को पूर्ण करा रहे थे। साथ ही आंगनबाड़ी केंद्र, पंचायत भवन, स्कूल, सरकारी भवनों की रंगाई-पुताई वगैरह चलती रही। सोमवार को इन कार्यों को फिनिशिंग टच दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने रविवार को विकास खंड में की गयी तैयारियों का जायजा लिया। साथ ही अब तक कराए गये कार्यों की समीक्षा की। उनके साथ सीडीओ मधुसूदन हुल्गी, बीडीओ दिवाकर सिंह आदि भी रहे।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल