डॉक्टर के सुई लगाते ही बच्चे की बिगड़ी तबियत, तोड़ा दम, आक्रोशित परिजनों को समझाने में छुटे पसीने



जनसंदेश न्यूज़
हलधरपुर/मऊ। डॉक्टर के सुई लगाते ही बच्चे की हालत बिगड़ी जिला मुख्यालय ले जाते समय रास्ते में बच्चे की मौत हो गई। बच्चे का शव चौराहे पर रख लोगों ने चक्काजाम कर दिया। इस बीच डॉक्टर ने अपने को डिस्पेंसरी में अन्दर से बंद कर लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बच्चे के शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। वहीं डॉक्टर को भी हिरासत में लेकर बच्चे की मां की तहरीर पर डॉक्टर के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया। 


हलधरपुर थाना क्षेत्र की विलौंझा ग्राम पंचायत निवासी किशन सिंह उर्फ छोटू सिंह 3 वर्ष पुत्र स्वर्गीय सिंपू सिंह को अचानक रात्रि लगभग 2 बजे पेट में तेज दर्द होने लगा। बच्चे की मां रंजना सिंह और परिजन बच्चे को लेकर तरवाडीह चट्टी स्थित पप्पू सेवा सदन ले गए जहां डॉक्टर उदय चंद्र चौहान उर्फ पप्पू चौहान ने बच्चे को इंजेक्शन लगाया। परंतु इंजेक्शन लगते हैं बच्चे की तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई और वह तड़पने लगा। बच्चे की बिगड़ती स्थिति को देखकर परिजन परेशान हो गए और तुरंत एक चार पहिया वाहन से बच्चे को लेकर जिला मुख्यालय के लिए रवाना हो गए, परंतु जैसे ही बलिया मोड़ पर पहुंचे बच्चे की सांसे रुक गई। 



बच्चे को परिजन फातिमा अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने बच्चे को मृत बताकर उन्हें वापस कर दिया। इसके बाद भी परिजनों को संतोष नहीं हुआ और वह बच्चे को लेकर बलिया जनपद के बाहरपुर मिशन अस्पताल पर गए। वहां भी चिकित्सक ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। परिजन बच्चे की मौत से काफी परेशान हाल थे। यह बच्चे के शव को लेकर तरवाडीह चट्टी पर आये और वहां हंगामा होने लगा। यह खबर जंगल की आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई और बड़ी संख्या में लोग वहां एकत्र हो गए। 


इस बीच डॉक्टर ने लोगों की भीड़ और आक्रोश को देखते ही अंदर से अपने डिस्पेंसरी को बन्द कर लिया। जिससे लोगों का आक्रोश भड़क गया और लोगों  को समझने में पुलिस के पसीने छूट गए। बाद में बच्चे की मां के तहरीर पर डॉक्टर के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल