दो पक्षों में जमकर चले ईट-पत्थर, पुलिस पर भी पथराव, सीओ समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल, आठ गिरफ्तार



जनसंदेश न्यूज़
मड़ियाहूं/जौनपुर। स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के इटाए बाजार में गुरुवार देर शाम दो पक्षों में हुए संघर्ष में सीओ सहित आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। जिसमें पुलिस द्वारा अभी तक दर्जन भर लोगों को हिरासत में लिया गया है। मुसहर व पटेल बस्ती के लोग घर छोड़कर फरार हो गए हैं। 


ज्ञात हो कि गुरुवार देर शाम मुसहरों व पटेलों के बीच जमीनी विवाद को लेकर मारपीट हुई थी। जिसमें दोनों पक्षों से ईट पत्थर चले। सूचना पर पहुंची 112 पुलिस पर भी ईट पत्थर चलाए गए। जानकारी के बाद कोतवाल मड़ियाहूं व सीओ मौके पर पहुंचे जहां उपद्रवियों द्वारा पत्थर मारकर क्षेत्राधिकारी मड़ियाहूं राजेन्द्र कुमार सहित आधा दर्जन पुलिस कर्मियों को घायल कर दिया। सूचना पर पुलिस अधीक्षक जौनपुर अशोक कुमार सर्किल के सभी थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। जहां पुलिस ने जमकर तांडव मचाया। 


पुलिस ने घर में घुसकर महिलाओं बच्चों की भी जमकर पिटाई किया तथा लगभग दर्जन भर लोगों को हिरासत में ले लिया। मुसहर व पटेल बस्ती में सन्नाटा पसरा है। सभी घर छोड़कर फरार हो गए हैं। पुलिस ने शुक्रवार 3रू30 बजे तक मुकदमा पंजीकृत नहीं किया था। ग्रामीणों ने बताया कि इटाए बाजार में मुसहरों के नाम सड़क पर पट्टा दिया गया है। जिस पर पटेल लोग कब्जा कर अपना मकान बनवा लिए हैं जिसको लेकर पिछले कई साल से आए दिन मारपीट होती रहती थी। 


जिसमें पुलिस व राजस्व अधिकारियों की लापरवाही सामने आ रही है। यदि राजस्व तथा पुलिस विभाग के लोग समय रहते आवश्यक कानूनी कार्यवाही किए होते तो इस घटना से बचा जा सकता था। इटाए निवासी अजीत सिंह जो अपने घर में बाइक बनाने का काम करता था पुलिस उसे उठा ले गई तथा उसके लड़के हितेश सिंह 15 वर्ष को लाठियों से पीटा जबकि उसका आरोप था कि वह लोग निर्दोष हैं झगड़े से उनका कोई लेना-देना नहीं था।


लेखपाल के अपहरण का प्रयास
सरकी। केराकत तहसील क्षेत्र के लेखपाल व लेखपाल संघ के मंत्री सतीश कुमार को कुछ लोगों ने अपहरण करने का असफल प्रयास किया। पीड़ित लेखपाल सतीश कुमार ने बताया कि केराकत क्षेत्र के मझिली ग्राम निवासी आलोक सिंह व कौशलेंद्र प्रताप सिंह पुत्र रविंद्र सिंह निवासी मानिकपुर व एक अन्य अज्ञात द्वारा उनका अपहरण करने का प्रयास किया गया एवं जब आसपास के लोगों ने तत्परता दिखाई तो वह जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। इसकी सूचना थाना चन्दवक पर लेखपाल संघ के लोगों ने दे दी थी। इसकी लिखित शिकायत उपजिलाधिकारी केराकत से की गई।
                                               


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल