देवरिया के सिंघम टीएसआई रामवृक्ष ने मुठभेड़ के बीच दिखाई दिलेरी


देवरिया। जनपद में सिंघम के नाम से प्रसिद्ध यातायात प्रभारी रामवृक्ष यादव ने आखिर आज यह सिद्ध कर ही दिया कि वह केवल नाम के सिंघम नही है, बल्कि काम से भी सिंघम है। आज इनकी जितनी भी सराहना किया जाये वह कम है। शहर में दिन रात सड़को पर यातायात की सुरक्षा देखने वाले टीएसआई रामवृक्ष यादव यादव आज पुलिस विभाग के लिए फिर सक्रिय ड्यूटी कर मिशाल पेश किए। उनके कार्य ततपरता को देखकर विभाग के लोग भी इस तरह की कार्य करने की नसीहत जरूर लेंगे।


 बताते चले कि सोमवार को शहर में कुछ बड़े बदमाशो के आने की सूचना सर्विलांस द्वारा पुलिस को मिली थी जिसके निमित्त पुलिस टीम पूरी तरह से तैनात थी जगह-जगह चेकिंग शुरू हो गयी थी। जनपद में भी एसओजी टीम कोआपरेटिव चैराहे पर चेकिंग कर रही थी। इस दौरान जनपद के लिए सिंघम कहे जाने वाले टीएसआई बदमाशों की गाड़ी कोआपरेटिव चैराहे पर पहुंची। जहां पर एसओजी टीम खड़ी थी। एसओजी टीम को देखते हुए बदमाश अपने गाड़ी की रफ्तार बढ़ाकर भागने लगे, जिससे शहर में आफरा तफरी मच गयी।


इस तरह से यातायात व्यवस्था गड़बाने लगी इसको देख यातायात प्रभारी रामवृक्ष भीड़ वाले क्षेत्र कोआपरेटिव चैराहा पर आ रहे थे तो उन्होंने देखा कि कुछ बदमाशो से जिले की एसओजी टीम बीच सड़क पर मोर्चा ले रही है। इस तरह का दृश्य देखकर यातायात प्रभारी तुरन्त सक्रिय होकर अपनी गाड़ी बीच सड़क के बीचो -बीच खड़ा कर बदमाशो को ललकारते हुए मौके पर पहुच एसओजी टीम के साथ लग गए।  


इतने में एसओजी टीम ने उन चारो बदमाशों को दबोच लिया। इस तरह का साहस देखकर देवरिया की जनता यह कहने लगी की सचमुच यही है देवरिया का असली सिंघम।


Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

1.5 करोड़ लेकर पत्नी ने किया पति का सौदा, किया प्रेमिका के हवाले

मेरी करनी का फल है लिखकर महिला दरोगा ने फंदे पर झूलकर दी जान