चीनी महिला और नेपाली साथी के साथ पत्रकार हुआ गिरफ्तार, चीन के लिए करता था जासूसी, रक्षा संबंधी जरुरी कागजात बरामद


जनसंदेश न्यूज़
नईदिल्ली। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने शनिवार को बड़ी सफलता प्राप्त की। पुलिस ने चीन (China) के लिए जासूसी (Spying) करने के आरोप में पीतमपुरा निवासी एक स्वतंत्र पत्रकार (freelance journalist) को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उन्हें ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है। सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने उनके पास से कुछ रक्षा संबंधी खुफिया दस्तावेज भी बरामद हुआ है।


दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव (DCP Sanjeev Kumar Yadav) ने बताया कि राजधानी के पीतमपुरा निवासी राजीव शर्मा कई अखबारों में काम कर चुका है। उसे गत 14 सितंबर को गिरफ्तार किया था और अगले दिन कोर्ट में पेश कर छह दिन के रिमांड पर लिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में एक और पत्रकार से पूछताछ चल रही है। अधिकारियों ने दावा किया है कि पत्रकार के कब्जे से सेना से संबंधित कुछ दस्तावेज बरामद किए हैं। फिलहाल वह छह दिन की रिमांड पर है। पूछताछ में पता चला है कि आरोपी पत्रकार चीन के लिए जासूसी कर रहा था।


बताया जा रहा है कि पत्रकार के खिलाफ विदेश मंत्रालय को भी शिकायत मिली थी, जिसकी जांच की जा रही है। राजीव शर्मा केे साथ ही एक चीनी और उसका नेपाली साथी भी गिरफ्तार हुआ है जो उसे फर्जी (शेल) कंपनियों के जरिए मोटा पैसा देते थे।
राजीव शर्मा के साथ उसके दो साथी महिपालपुर कंपनी में कार्यरत है, जहां वें चीन को दवाइयां एक्सपोर्ट करते थे। चीन से भेजे गए पैसे यहां एजेंट को दिए जाते हैं। जांच में पता चला है कि पिछले एक साल में 40-50 लाख रुपये पत्रकार को दिए गए हैं।


स्पेशल सेल के डीसीपी ने बताया कि राजीव शर्मा ने चीनी खुफिया विभाग को 2016 से 2018 के बीच में रक्षा और रणनीति से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां दीं। राजीव शर्मा के पास पत्रकारिता का 40 सालों का अनुभव है। भारत के कई समाचार पत्रों में काम के साथ ही राजीव ने चीन की मीडिया एजेंसी ‘ग्लोबल टाइम्स’ के लिए भी फ्रीलांस पत्रकारिता की है।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल