चार साल पहले परिजनों से बिछड़ा था यह बालक, बाल कल्याण समिति के अथक प्रयासों से आज परिजनों से मिला, छलके आंसू



जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। 4 साल पहले अपने परिजनों से बिछड़े एक 9 वर्षीय बालक आज फिर अपने परिजनों से मिल पाया। यह संभव हुआ बाल कल्याण समिति के अथक प्रयासों की बदौलत। मंगलवार को जैसे ही मासूम अपने परिजनों से मिला, परिजनों के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। परिजनों ने बाल कल्याण समिति के सदस्यों का आभार व्यक्त किया। 


दरअसल चार साल पहले मुगलसराय के मुस्लिम महाल निवासी मुहम्मद आसिफ का पांच वर्षीय बालक साहिल किसी तरह भटक कर सासाराम पहुंच गया। इधर परिजन काफी खोजबीन किये, लेकिन मासूम का कहीं पता नहीं चला। थक हार कर परिजनों ने इसकी सूचना बाल कल्याण समिति के सदस्यों को दी। इस बीच लगातार चार वर्षों से अपने बच्चे से दूर रहने के कारण परिजन उसे दुबारा मिलने की आस छोड़ चुके थे, लेकिन बाल कल्याण समिति के सदस्यों के अथक प्रयासों से पता चला कि बच्चा सासाराम के शेल्टर होम है। जहां बच्चे के आधार कार्ड व फिंगर प्रिंट के मिलान के बाद उसे लेकर मुगलसराय आये। मंगलवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान समिति के सदस्यों ने साहिल के माता-पिता को उसे सौंपा दिया। 


चार वर्ष बाद अपने बच्चे की मिलने की खुशी में माता-पिता के आंसू छलक उठे। इस दौरान साहिल के माता-पिता ने बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अराधना गुप्ता, इन्द्रजीत शर्मा, आनंद कुमार सहित सभी का आभार व्यक्त किया। 


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

दहेज के लिए मां को किया बच्चों से दूर, मधुर तरंग होटल मालिक पर गंभीर आरोप, रसूख के दबाव में काम कर रही पुलिस

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए