चार साल का प्रेम परवान ना चढ़ा तो खुद को मार ली गोली, डायरी के 12 पन्नों में दफन प्रेम की दास्तां

डायरी के 12 पन्नों में दफन प्रेेम की दास्तां, जुलाई में आया था गांव  



रवि प्रकाश सिंह 
वाराणसी। चार साल का प्रेम जब परवान नहीं चढ़ा तो डिस्प्रेशन में खुद को गोली मारकर युवक ने आत्महत्या कर ली। प्रेम एक तरफा था या दो तरफा ये जांच का विषय है। लेकिन लॉकडाउन में गांव लौटे युवक के इस खौफनाक कदम से हड़कंप मच गया है। मामला कपसेठी थाना क्षेत्र के सरावां गांव का है। 


अजय कुमार जायसवाल उर्फ गोलू की खुन से लथपथ लाश उसके बैठके में पड़ी थी। जुलाई में वह अपने गांव लौटा था। घटना की जानकारी तब हुई जब सुबह में घर का एक बच्चा चाय लेकर अजय के पास पहुंचा, देखा तो खुन से लथपथ उसका शव चारपाई पर पड़ा है। शोर मचाने पर घर वाले जुटे, पुलिस को सूचना दी गई। जांच टीम के साथ पहुंची पुलिस आगे की कार्रवाई करते हुए शव को पीएम के लिए भिजवाया। 


अजय के पास से एक डायरी मिली जिसमें 12 पन्नों प्रेम पत्र लिखा था। इस पत्र में प्रेमिका को न पाने का मलाल था। खुद को असफल बताने के साथ और भी बातें दर्ज थी। परिवार वालों ने बताया कि इस लॉकडाउन में वह दिल्ली से जुलाई महीने में लौटा था। किसी लड़की से चार साल से प्रेम चल रहा था। उस लड़की की शादी हो गई है। इस बात को लेकर उसे न पाने की मलाल इस कदर था कि वह डिप्रेशन में चला गया। हालांकि फिर भी समान्य था। क्योंकि शुक्रवार को वह परिवार संग भोजन किया और लंबी बातें भी। इसके बाद वह बरामदे में सोने चला गया। लगभग दो से तीन बजे भोर में उसने खुद को लाइसेंसी बंदूक से गोली मार ली। पास में खोखा भी बरामद हुआ। पिता श्रीकांत जायसवाल अपनी पत्नी और एक पुत्र के साथ पांडेयपुर वाराणसी स्थित मकान में रहते हैं। घटना की जानकारी मिलते ही अपने परिवार के साथ गांव पर आ गये। थानाध्यक्ष राजू दिवाकर संग फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर जांच की। 


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल