चार माह पहले जारी हुआ टेंडर, आज तक शुरू नहीं हो सकता सड़क निर्माण, रोष 

सड़क निर्माण में लापरवाही पर प्रदर्शन की चेतावनी

जनसंदेश न्यूज 
सुहवल/गाजीपुर। योगी सरकार सीएम की कुर्सी संभालते ही प्रदेश की सभी सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने का फरमान जारी किया। लेकिन लोकनिर्माण विभाग इसके प्रति गंभीर नहीं है, इनके कार्यो की उदासीनता को लेकर लोगों में रोष व्याप्त है। युवा समाजसेवी व छात्र नेता आशुतोष मिश्रा एवं रोहित सिंह ने अधिशासी  अभियंता से लिखित शिकायत कर सड़क निर्माण की मांग किया है। साथ ही कार्य न होने पर प्रदर्शन की चेतावनी दिया है।   


जमानियां एवं सेवराई तहसील क्षेत्र स्थित गंगापार की जर्जर करीब नौ सड़कों की मरम्मत व पुनर्निर्माण में विभाग ने बड़ी लापरवाही किया है। क्षेत्र में करीब 20 किमी तक सड़क जर्जर हालत में है। वहीं विभाग ने कई महीने पूर्व शासन को इन  सड़कों की मरम्मत को लेकर करोड़ों का प्रस्ताव भेजा था। शासन ने विभाग की प्रस्तावित एक करोड़ साढे़ 35 लाख की धनराशि में से करीब 40 लाख रुपये स्वीकार कर अवमुक्त कर दिए। 


लोकनिर्माण विभाग ने विगत पांच मई को टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर लिया। लेकिन चार माह से अधिक समय होने के बाद भी सड़कों पर मरम्मत कार्य नहीं हो सका। युवा समाजसेवी व छात्र नेता आशुतोष मिश्रा एवं रोहित सिंह ने अधिशासी  अभियंता प्रदीप कुमार शरद से लिखित शिकायत किया। मांग किया कि स्वीकृत हो चुकी सड़कों का जल्द पुनर्निर्माण कराया जाए। कार्य में लापरवाही की गई तो हम  ग्रामीणों संग धरना-प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे, जिसकी पूरी जिम्मेदारी संबधित विभाग की होगी।



जर्जर सड़कों की नहीं हुई मरम्मत
सुहवल। जमानियां एवं सेवराई तहसील क्षेत्र अन्तर्गत पकड़ी संम्पर्क मार्ग से गोपालपुर, डेढगावां उधरनपुर से बडौरा, सुहवल गौरा पटकनियां, टीबी रोड से पकड़ी कल्यानपुर, टीबी रोड से सुहवल युवराजपुर मार्ग, तिलवां नरायनापुर, एन एच 24 से मंनझरिया मार्ग, दिलदारनगर मुख्य मार्ग से एन एच 24 व मेदनीपुर, युवराजपुर, रामपुर, रेवतीपुर मार्ग की मरम्मत करीब एक माह में पूरी करनी थी।  लेकिन विभाग की उदासीनता के चलते अभी तक मरम्मत नहीं शुरू हो सका है। इन सभी सड़कों की कुल लंम्बाई करीब 20 किमी जिसकी अनुमानित लागत करीब एक करोड़ साढे पैतीस लाख रुपए है, जिसमें से शासन ने विभाग को करीब चालीस लाख रुपये अवमुक्त भी कर दिया है। मालूम हो कि टेंडर की प्रक्रिया पूरी होने के बाद इन सभी सड़कों का मरम्मत व नवनिर्माण एक माह में पूरा कर लेना था जो विभागीय लापरवाही के कारण नहीं हो सका।


बरसात के कारण रूका मरम्मत कार्य: अधिशासी अभियंता
लोकनिर्माण विभाग खंड प्रथम अधिशासी अभियन्ता प्रदीप कुमार शरद ने कहा कि शासन द्वारा करीब डेढ़ करोड़ अनुमानित लागत का करीब 35 प्रतिशत धनराशि अवमुक्त हो चुकी है, बरसात के कारण मरम्मत रूका है, मानसून के समाप्ति के बाद अगले माह अक्तूबर से उक्त सभी सड़कों की मरम्मत शुरू करा दिया जाएगा। जिसे एक महीने में पूरा कर लिया जायेगा।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल