बिहार में चुनावी महासमर का बजा बिगुल, तीन चरण में ही संपन्न होगा चुनाव


पटना। बिहार में विधानसभा की 243 सीटों के लिए इस बार कोविड-19 की वैश्विक महामारी के बावजूद सिर्फ तीन चरण में ही मतदान कराये जाने की घोषणा के साथ ही राज्य में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गयी है।


बिहार में वर्ष 2015 का पिछला विधानसभा चुनाव पांच चरणों में कराया गया था, लेकिन इस बार मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन कर सभी 243 सीटों के लिए 28 अक्टूबर, तीन नवम्बर और और सात नवम्बर को मतदान कराये जाने की घोषणा की। दस नवंबर को मतगणना होगी और चुनाव की प्रक्रिया 12 नवंबर तक पूरी हो जायेगी। बिहार विधानसभा का वर्तमान कार्यकाल 29 नवंबर 2020 को समाप्त हो रहा है।


चुनाव आयोग के अनुसार, प्रथम चरण में जिन 71 सीटों पर चुनाव होना है उनमें कहलगांव, सुल्तानगंज, अमरपुर, धोरैया(सुरक्षित), बांका, कटोरिया (सु), बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय, शेखपुरा, बरबीघा, मोकामा, बाढ़, मसौढ़ी (सु), पालीगंज, बिक्रम, संदेश, बरहरा, आरा, अगियांव (सु), तरारी, जगदीशपुर, शाहपुर, बरहमपुर, बक्सर, डुमरांव, राजपुर (सु), रामगढ़, मोहनिया (सु), भभुआ, चैनपुर, चेनारी (सु), सासाराम, करगहर, दिनारा, नोखा, डेहरी, काराकाट, अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, मखदुमपुर (सु), गोह, ओबरा, नबीनगर, कुटुंबा (सु), औरंगाबाद, रफीगंज, गुरुआ, शेरघाटी, इमामगंज (सु), बाराचप्ती (सु), बोधगया, गया शहर, टिकारी, बेलागंज, अत्री, वजीरगंज, रजौली (सु), हिसुआ, नवादा, गोंिवदपुर, वारसलीगंज, सिकंदरा (सु), जमुई, झाझा और चकाइ शामिल हैं । 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल