बस्ती में बीमारी से जूझ रहे हॉकर रामदास के लिए भगवान बने समाजसेवी अमित सिंह


जरूरतमंद लोगों की सहायता करना ही इंसान का असली धर्म - अमित 
जनसंदेश टाइम्स मे प्रकाशित खबर को संज्ञान ले रामदास के घर पहुंचे 


बस्ती। सल्टौआ ब्लॉक के जिनवा निवासी अखबार के हॉकर रामदास के शरीर मे लकवा मारने की वजह से जीविकोपार्जन के लिए खड़ी हो चुकी आर्थिक संकट के बीच मदद के लिए हाथ बढ़ने शुरू हो गए हैं। जिससे परिवार के लोगों में बेहतर इलाज की उम्मीद बढ़ी है। दरअसल अखबार के हाॅकर रामदास की लाचारी और विवशता की खबर जनसंदेश टाइम्स एवं तहकीकात समाचार ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था। खबरों का संज्ञान लेकर बनकटी ब्लॉक के प्रमुख प्रतिनिधि अमित सिंह ने उनके घर पहुंच कर सहायता राशि उपलब्ध करवाई। सहायता राशि पाकर परिवार के लोगों ने उन्हें धन्यवाद दिया एवं उनकी पत्नी सोभा देवी ने कहा कि इस वक्त दवा लाने के लिए भी पैसे नही थे ऐसी स्थिति में इस सहयोग को भुलाया नही जा सकता ।  समाजसेवी अमित सिंह ने कहा कि जरूरतमंद लोगों की सहायता करना ही इंसान का असली धर्म है उन्होंने कहा कि आगे और भी सहायता प्रदान की जाएगी।


जनपद के जिनवा निवासी रामदास पिछले 25 सालों से अखबार बेंचने का काम कर रहे थे लेकिन पिछले 2 साल से शरीर के दाहिने हिस्से में लकवा मारने की वजह से शरीर ने काम करना बंद कर दिया था जिससे लगातार दो वर्षों से वह बिस्तर पर लेट कर अपनी बीमार जिंदगी को काट रहे हैं । रामदास की माली हालत ठीक न होने की वजह से समय से इलाज मिलने में भी कठिनाई होने लगी इसी बीच जनसंदेश टाइम्स एवं तहकीकात समाचार के जरिये इनकी समस्या को जगह दी गई तो अनेकों हिस्सों से लोगों ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया है । बताते चलें कि बनकटी ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि अमित सिंह ने लाॅकडाउन के दौरान गरीबों के मसीहा बनकर लगातार तीन महीने तक खाद्यान्न व अन्य जरूरी सामग्री का वितरण कर उल्लेखनीय योगदान दिया था।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल