बर्थडे पार्टी में तड़तड़ाई गोलियां, दो लोगों को लगी गोली, मची सनसनी

घटना पर पर्दा डालने में जुटी है पुलिस


रोक के बावजूद बर्थडे पार्टी में हुई हर्ष फायरिंग

जनसंदेश न्यूज़
कौशांबी/प्रयागराज। मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के गौरा गांव में 20 सितंबर की रात एक जन्मदिन पार्टी मे सशस्त्र असलहा धारियों ने जमकर फायरिंग की। जिससे लोगों के घर की छतों के प्लास्टर उखड़ गए और हर्ष फायरिंग की गोली गांव के अशोक मौर्या वा राम सिंह दो लोगों को लग गई। जिससे दोनों लहूलुहान हो गए। 


बर्थडे पार्टी में हर्ष फायरिंग पर सरकार ने पूर्व से रोक लगा रखी है। इस मामले में जिला अधिकारी ने भी आदेश जारी कर थाना पुलिस को कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया है। लेकिन हर्ष फायरिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। 20 सितंबर को जिस तरह से बर्थडे में हर्ष फायरिंग की गई है लोगों के बीच चर्चा का विषय है। दो लोगों के हर्ष फायरिंग में घायल होने के एक सप्ताह बाद भी घटना का मुकदमा पुलिस ने नहीं दर्ज किया है।



बताया जाता है कि गौरा गांव निवासी मंगल सिंह पटेल और उनके समर्थकों ने हर्ष फायरिंग की है। जिनके नाम दो नाली बंदूक राइफल पिस्टल के लाइसेंस भी हैं। अभी तक मंझनपुर कोतवाली पुलिस ने अपराधियों के लाइसेंस की निरस्तीकरण की कार्रवाई जिलाधिकारी को नहीं सौंपी है और तमंचा बरामद नही किया है। सूत्रों की माने तो गौरा गांव के ही एक दलाल के माध्यम से कोतवाली पुलिस तक मोटी रकम पहुंच चुकी है। जिससे गोलीकांड में घायल लोगों की तहरीर पर मुकदमा लिखने के बजाय इस मामले पर पर्दा डालने पर पुलिस लगी हुई है। आखिर हर्ष फायरिंग पर दो लोगों को घायल करने वाले मंगल सिंह पटेल और उनके साथी कब जेल की हवालात में होंगे। 


Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

1.5 करोड़ लेकर पत्नी ने किया पति का सौदा, किया प्रेमिका के हवाले

मेरी करनी का फल है लिखकर महिला दरोगा ने फंदे पर झूलकर दी जान