बनारस में अब ‘स्मार्ट काशी एप’ से होगी नगरीय सुविधाओं की मॉनीटरिंग, ये मिलेंगी सुविधाएं

जीपीएस आधारित इस एप पर खर्च होगा 40 लाख


सीएसआर फंड से एचडीएफसी बैंक उपलब्ध कराएगा धन



संतोष तिवारी ‘बिंदास’
वाराणसी। स्मार्ट सिटी बनने की ओर अग्रसर काशी में नगरीय सुविधाएं बेहतर करने की लगातार कोशिश नगर निगम की ओर से हो रही है। वहीं जनता को मिलनी वाली सुविधाओं की मॉनीटरिंग के लिए भी रोज प्रयास हो रहे हैं। इसीक्रम में अब स्मार्ट काशी एप की लॉचिंग होने जा रही है। फाइनल स्टेज में पहुंचे इस एप को दो अक्टूबर गांधी जयंती पर लॉच करने की तैयारी है।
जीपीएस आधारित इस एप से ढेर सारी परेशानियों का जहां हल होगा वहीं जनता का फीडबैक भी इस एप के जरिए लिया जाएगा। मजे की बात यह है कि जहां-जहां भी विकास कार्य हो रहे हैं उस साईट की रोजाना रियल इमेज भी इस ऐप पर दिखेगी जिससे अफसर घर व कार्यालय में बैठे यह जान सकेंगे की किस गति से कौन सी साईट पर काम हो रहा है। नगर निगम के कम्प्यूटर कोआर्डिनेटर संदीप श्रीवास्तव ने बताया कि एचडीएफसी बैंक सीएसआर फंड से इस ऐप का खर्च उठाएगा। दो साल में करीब 40 लाख रुपये इस एप पर खर्च होंगे। एचडीएफसी बैंक रथयात्रा शाखा के सीनियर मैनेजर सुधीर वर्मा ने बताया कि विकास प्राधिकरण के दर्पण एप की तर्ज पर इस ऐप को विकसित किया जा रहा है।


ये होंगे सुविधाएं
-फिल्ड में काम करने वाले सफाईकर्मी से लगायत हर कर्मी की हाजिरी व छूूट्टी


-हर निर्मार्णाधीन प्रोजेक्ट की चेकिंग


-शिकायतों की सुनवाई व निस्तारण, डेटा बेस तैयार करना


-सरकार व नगर निगम की ओर से जारी होने वाले हर नोटिफिकेशन व कम्पोनेंट की जानकारी के साथ ही कोर्ट मैनेजमेंट


नगर निगम की प्रमुख सड़कों पर बने कूड़ाघरों की साफ-सफाई की जानकारी


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल